स्लैब गिरने के मामले १५ दिन बाद केस दर्ज

महानगर प्रतिनिधि/उल्हासनगर - शहर के कैंप-1 स्थित मुकुंदनगर में निर्माणाधीन बाबासाहेब आंबेडकर स्मारक का स्लैब 15 दिन पूर्व गिर गया था। मनपा महासभा में मुद्दा उठने के  बाद भी भाजपा गटनेता के दबाव में शहर अभियंता पुलिस में आपराधिक मामला दर्ज करवाने में टालमटोल कर रहे थे। मनपा आयुक्त और शहर अभियन्ता पर लगातार मनसे  द्वारा दबाव बनाने के बाद रविवार देर शाम उल्हासनगर पुलिस ने कनिष्ठ अभियंता की शिकायत पर वनी देवी मजदूर संस्था के ठेकेदार और कर्मचारी के खिलाफ मामला दर्ज किया  है। बता दें कि उल्हासनगर कैंप-1 स्थित पुलिस कालोनी परिसर के पास मुकुंदनगर में मनपा द्वारा डॉ. बाबासाहेब आंबेडकर स्मारक का निर्माण कार्य पिछले दिनों किया जा रहा था।  स्मारक का कार्य भाजपा नगरसेवक जमनादास पुरुस्वानी के प्रयासों से पारित हुआ था।
यह निर्माण कार्य वणीदेवी मजूर संस्था को मनपा के सार्वजनिक निर्माण विभाग ने 8 जुलाई  2015 को वर्क ऑर्डर दिया था। शुरू से ही उक्त समाजमंदिर के निर्माण कार्य में घटिया दर्जे की रेती, सीमेंट आदि सामग्री का इस्तेमाल किया जा रहा था, जिसकी शिकायत रिपाई युवा जिलाध्यक्ष सुनील सोनवणे, अभिनाश अहिरे, नाना बिराडे ने मनपा प्रशासन एवं ठेकेदार से की थी। मगर मनपा प्रशासन एवं ठेकेदार ने रिपाई नेताओं की शिकायतों को अनदेखा  कर दिया था और निर्माणाधीन डॉ बाबासाहेब आंबेडकर स्मारक नामक (समाज मंदिर) बनने से पहले ही 15 दिन पूर्व उसका स्लैब गिर गया था।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget