आतंकी हमला, 40 जवान शहीद

श्रीनगर
जम्मू-कश्मीर पुलवामा जिले में गुरुवार शाम हुए एक बड़े आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए हैं। शहीद जवानों की संया बढ़ने की आशंका जताई जा रही है।  उरी में सितंबर 2016 में हुए आतंकी हमले के बाद कश्मीर में यह सुरक्षाबलों पर अब तक का सबसे बड़ा आतंकी हमला है। गुरुवार को श्रीनगर-जम्मू हाइवे पर स्थित अवंतिपोरा  इलाके में आतंकियों ने सीआरपीएफ के एक काफिले को निशाना बनाया। इस हमले के बाद दक्षिण कश्मीर के कई इलाकों में सुरक्षा एजेंसियों द्वारा अलर्ट जारी किया गया है। जैश  आतंकी आदिल ने रची साजिश आतंकी संगठन जैश-ए-मोह्मद ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है। बताया जा रहा है कि आदिल अहमद डार नाम के आतंकी ने इस काफिले पर हमले  की साजिश रची थी। आदिल पुलवामा के काकापोरा इलाके का रहने वाला है। सीआरपीएफ की 54वीं बटैलियन के जवानों को इस हमले में आतंकियों ने निशाना बनाया।
विस्फोटकों से लदी गाड़ी से मारी ट€कर विस्फोटकों से भरी एक गाड़ी लेकर आए जैश- ए-मोह्मद के आतंकी आदिल ने सीआरपीएफ जवानों के काफिले की बस में ट€कर मार दी। काफिले की जिस बस को आतंकियों ने निशाना बनाया, उसमें 39 जवान सवार थे। हमले के बाद घायल जवानों को तुरंत श्रीनगर के हॉस्पिटल में शिफ्ट किया गया।
सीआरपीएफ के काफिले में 70 गाड़ियां हमले में घायल 20 से ज्यादा जवानों का अस्पताल में इलाज किया जा रहा है। इनमें से कई जवानों की हालत गंभीर बताई जा रही है। जिस काफिले पर यह हमला हुआ, वह जम्मू से श्रीनगर की ओर जा रहा था और इसमें ढाई हजार से अधिक जवान शामिल थे।
आतंक के खिलाफ हम भारत के साथ भारत में अमेरिकी राजदूत केनेथ जस्टर ने कहा कि अमेरिका जम्मू-कश्मीर में हुए इस आतंकी हमले की निंदा करता है। पीड़ितों के परिवार के साथ हमारी संवेदनाएं हैं। अमेरिका आतंक के खिलाफ लड़ाई में और उसे हराने में भारत के साथ खड़ा है।

आज अहम बैठक
सीआरपीएफ के काफिले पर हुए आतंकी हमले के बाद सरकार फूंक-फूंककर कदम रख रही है। सूत्रों के हवालों से बताया कि कैबिनेट कमिटी ऑन सि€यॉरिटी (सीसीएस) आज सुबह  9:15 पर बैठक करेगी। इस कमिटी में प्रधानमंत्री के अलावा गृह मंत्री, विदेश मंत्री, रक्षा मंत्री और वित्त मंत्री होते हैं। सूत्रों का कहना है कि इस बैठक में आगे की कार्रवाई पर चर्चा  की जाएगी।

सरकार से कड़े एक्शन की उम्मीद
राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के मुखिया मोहन भागवत ने हमले की निंदा करते हुए इस पर सरकार की ओर से एक्शन लिए जाने की उ्मीद जताई। उन्होंने कहा कि यह कायराना हरकत  है, इसकी हम तीखी निंदा करते हैं। इस घटना को लेकर हमें सरकार से ऐ€शन की उ्मीद है। भागवत ने कहा कि हमने बहुत कुछ सहन किया है। आज भी सह रहे हैं। आज के इस  हमले से यह साबित होता है। उन्हें जवाब देना ही होगा।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget