अनिल अंबानी को देने होगे 453 करोड

नई दिल्ली
सुप्रीम कोर्ट ने रिलायंस कम्युनिकेशंस के अध्यक्ष अनिल अंबानी को जानबूझ कर उसके आदेश का उल्लंघन करने और टेलिकॉम उपकरण बनाने वाली कंपनी एरिक्सन को 550 करोड़  रुपए बकाया भुगतान नहीं करने पर बुधवार को अदालत की अवमानना का दोषी करार दिया।
सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि अंबानी, रिलायंस टेलिकॉम के अध्यक्ष सतीश सेठ और रिलायंस इंफ्राटेल की अध्यक्ष छाया विरानी ने कोर्ट में दिए गए आश्वासनों और इससे जुड़े आदेशों का  उल्लंघन किया है। कोर्ट ने सक्ती से कहा कि एरिक्सन को 4  हफ़्ते में 453 करोड़ रुपए चुकाने होंगे। तय समय में भुगतान नहीं करने पर उन्हें तीन महीने जेल की सजा भुगतनी  होगी।
मामला एरिक्सन इंडिया को 550 करोड़ रुपए की बकाया राशि दिए जाने का है। अनिल धीरुभाई अंबानी ग्रुप (एडीएजी) के अध्यक्ष अनिल अंबानी और अन्य के खिलाफ बकाया  भुगतान नहीं करने पर टेलिकॉम उपकरण निर्माता एरिक्सन ने सुप्रीम कोर्ट में तीन अवमानना याचिकाएं दायर की थीं। जस्टिस आरएफ नरीमन और जस्टिस विनीत शरण की बेंच ने  बुधवार को फैसला सुनाते हुए कहा कि अंबानी और अन्य को अवमानना से बचने के लिए एरिक्सन को चार हब्ते में 453 करोड़ रुपए चुकाने होंगे। ऐसा न करने पर तीन महीने जेल  की सजा होगी।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget