पाक नागरिक ने ही खोली पाक सेना के झूठ की पोल

इस्लामाबाद
इंडियन एयरफोर्स के मिराज-2000 विमान मंगलवार तड़के करीब साढ़े तीन बजे पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर और खैबर पक्तून वाह प्रांत के बालाकोट में जैश-ए- मोहम्मद के ठिकानों पर कहर बनकर टूटे। इन विमानों ने हजारों किलो के बम से कई आतंकी ठिकानों को ध्वस्त कर दिया। इस बीच पाकिस्तान इस हमले को अभी भी 'हमला’ मानने को तैयार नहीं है।  पाकिस्तान की सेना ने इसे अपनी सीमा में घुसने का असफल प्रयास करार दिया है। हालांकि उसके इस दावे की पोल उसके अपने नागरिकों ने खोल दी है। स्थानीय लोगों ने बातचीत  में घटना की जानकारी दी। मोहम्मद आदिल नाम के शख्स ने बताया कि तीन बजे बहुत जोर से आवाज आई थी और फिर पांच धमाके की आवाज सुनाई दी थी। फिर कुछ देर बाद  आवाज आनी बंद हो गई।
पाकिस्तान भारत के इस हमले की खबर से लगातार इंकार कर रहा है। सत्तारूढ़ दल पाकिस्तान तहरीक ए इंसाफ ने सिलसिलेवार ट्वीट कर भारतीय वायुसेना के हमले की खबरों से  इनकार किया है। हालांकि पाकिस्तानी सेना प्रवक्ता के दावे की पोल वहां के एक नागरिक ने ही खोल दी। पाकिस्तान के ऐबटाबाद के रहने वाले असद खान नाम के ट्वीटर यूजर ने  सुबह करीब साढ़े पांच बजे ट्वीट कर कहा कि ऐबटाबाद के आकाश में सुबह 4 बजे से लड़ाकू विमान गरज रहे हैं। उसने विमानों का एक विडियो भी अपलोड किया लेकिन बाद में  उसने इसे डिलीट कर दिया। दरअसल पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता ने भारतीय विमानों को रोक पाने में अपनी शर्मनाक असफलता को छिपाने के लिए इसे एलओसी के नजदीक का  बालाकोट बताया था, ताकि अपनी जनता के सवालों को शांत किया जा सके, जबकि वास्तविकता है यह है कि भारतीय विमानों ने एलओसी से करीब 80 किमी दूर स्थित बालाकोट  में हमला किया था। यह स्थान आतंकवादियों का गढ़ है।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget