आंधी से ११६ गांवो मे गुल रही बत्ती, ओलेसे हुई फ़सल बर्बाद

नैनीताल
बारिश के साथ आए अंधड़ से कोसी घाटी के वाशिदों को ब्लैक आउट की मार झेलनी पड़ी। विद्युतापूर्ति ठप होने से बेतालघाट  विकासखंड के करीब 116 गांव पूरी रात अंधेरे में डूबे रहे। विद्युत कर्मी दिन भर मरम्मत में जुटे रहे, लेकिन लगातार बारिश से  परेशानी बढ़ने पर करीब 18 घंटे बाद पर्यटन नगरी स्थित सब स्टेशन से कोसी घाटी के प्रभावित गांवों को आपूर्ति देकर राहत दी  गई। देर रात तेज बारिश के साथ अंधड़ ने विद्युत लाइनों पर कहर ही बरपा दिया। वहीं आकाशीय बिजली भी गिरी। गरमपानी  बिजली घर के यार्ड में तकनीकी दिक्कत आने से बेतालघाट के करीब 116 गांवों की बकी गुल हो गई। उधर अल्मोड़ा हल्द्वानी  हाइवे पर निगलाट क्षेत्र में चीड़ का विशालकाय पेड़ हाइटेंशन लाइन पर जा गिरा। हल्द्वानी से पहुंची टीम ने यार्ड में आए फॉल्ट  को दुरस्त किया, लेकिन पेड़ की चपेट में आई लाइन लगातार बारिश के कारण ठीक करने में काफी परेशानी आई।
अल्मोड़ा हल्द्वानी हाइवे से सटे तमाम गांवों मे बीती रात भारी ओलावृष्टि ने कसिंानों की कमर तोड़ कर रख दी है। खेत ओलों से  पट गए हैं। उपज को काफी नुकसान हुआ है। चाय बागान व पौधालयों को भी खासा नुकसान पहुंचा है। हाइवे से सटे रातीघाट,  हली, हरतपा, जसिया घुना, कैंची आदि तमाम गांवों में बीती रात भारी ओलावृष्टि हुई। इससे कसिंानों को काफी नुकसान उठाना पड़ा। मटर व ह्रश्वयाज की पौध तबाह हो गई। ओलावृष्टि ने कसिंानों की साल भर की मेहनत में पानी फेर दिया है। वहीं हली और  हरतपा क्षेत्र में आढू व पूलम के बगीचों में लगे फूल नष्ट होने से उत्पादन में गिरावट की चिंता किसानों को सताने लगी है। काश्तकारों के मुताबिक हाड़तोड़ मेहनत के बाद अच्छी फसल की उम्मीद थी मगर ओलों ने कुछ तबाह कर दिया है।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget