हमले से पहले आतंकी शिविर में 300 मोबाइल थे सक्रिय

नई दिल्ली
पाकिस्तान के बालाकोट स्थित आतंकी शिविरों पर एयर फोर्स के हवाई हमले में कितने आतंकवादी मारे गए, इस सवाल को लेकर जहां सत्ता और विपक्ष आमने-सामने आ गया है,  वहीं भारतीय खुफिया एजेंसियों की तकनीकी सर्विलांस से एक बड़ा खुलासा हुआ है। सर्विलांस के मुताबिक, आतंकी कैंप में 300 मोबाइल फोन के ऐक्टिव होने की जानकारी सामने  आई है, जिसने सीधे तौर पर संकेत दिए हैं कि वहां कितने आतंकी रह रहे थे। सूत्रों के हवाले से बताया कि वायु सेना को पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के शिविर में हमले  की अनुमति मिलने के बाद नेशनल टेक्निकल रिसर्च ऑर्गनाइजेशन (एनटीआरओ) ने सर्विलांस शुरू किया था। उल्लेखनीय है कि वायु सेना के मिराज 2000 ने पुलवामा अटैक के बाद  बालाकोट में आतंकी शिविरों पर एयर स्ट्राइक किया था। सूत्रों ने बताया कि तकनीकी सर्विलांस के दौरान यह जानकारी सामने आई कि कैंप में करीब 300 मोबाइल फोन ऐक्टिव  नजर आए थे, जिसके कुछ दिन बाद एयर स्ट्राइक हुआ था। कैंप को आईएएफ के फाइटर जेट ने हवाई हमले में उड़ा दिया था।

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget