गोरखपूर मेट्रो पर खर्च होंगे 48 सौ करोड रूपए

गोरखपुर
आखिरकार गोरखपुर के लोगों की उम्मीदों को पंख लग ही गए। गोरखपुर विकास प्राधिकरण (जीडीए), राईट्स नई दिल्ली और लखनऊ मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (एलएमआरसी) ने बैठक  कर गोरखपुर में मेट्रो रेल के प्रस्ताव पर मुहर लगा ही दी। मेट्रो रेल के लिए श्याम नगर से सूबा बाजार तक और गुलरिहा से कचहरी तक दो कॉरिडोर बनाए जाएंगे। श्याम नगर से  सूबा बाजार तक 16.95 किमी में 16 स्टेशन बनाए जाएंगे। वहीं गुलरिहा से कचहरी के बीच 10.46 किमी में 11 स्टेशन प्रस्तावित हैं। यात्रियों को रूट बदलने के लिए दोनों कॉरिडोर  के बीच धर्मशाला बाजार में क्रासिंग बनाई जाएगी। कॉरिडोर के लिए सूबा बाजार और मुगलहा में डिपो बनाए जाएंगे। स्टेक होल्डर सदस्यों के अनुसार मेट्रो पूरी तरह जमीन के ऊपर से चलेगी। मेट्रो ट्रैक के दोनों तरफ 500 मीटर तक आम लोगों के लिए एफएआर बनाया जाएगा, जिसके लिए आम लोगों से सालाना शुल्क वसूला जाएगा। मेट्रो रेल को वर्ष 2041  तक पूरा कर लेने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इस योजना के लिए 4800 करोड़ रुपये का बजट प्रस्तावित है। गोरखपुर में मेट्रो रेल लाइट रेल ट्रांजिट सिस्टम पर कार्य करेगी।  जिसमें दो बोगियां लगेंगी। एक बार में 400 लोग यात्रा कर सकेंगे।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget