आतंकी पाले तो फिर मारेंगे

नई दिल्ली
पड़ोसी मुल्क द्वारा विंग कमांडर अभिनंदन को छोड़े जाने की घोषणा के बाद भारत की तीनों सेनाओं ने गुरुवार शाम साझा प्रेस कांफ्रेंस कर पाकिस्तान के झूठ को दुनिया के सामने  रखा। इसके साथ ही तीनों सेनाओं ने स्पष्ट संकेत दिया है कि हमारी लड़ाई आतंकवाद के खिलाफ है और अगर पाकिस्तान आतंकियों को संरक्षण देना आगे भी जारी रखता है तो ऐसे  ऐक्शन जारी रहेंगे।

पाकिस्तान का पहला झूठ : पाक यह दावा करता है कि उसने भारत के दो जेट गिराए हैं। भारतीय वायुसेना की तरफ से एयर वाइस मार्शल आरजीके कपूर ने विस्तार से इस पाकिस्तानी झूठ को उजागर किया। उन्होंने बताया कि 27 फरवरी 2019 को सुबह 10 बजे एयर फोर्स के रेडार पर कई पाक जेट आते दिखे। आईएएफ फाइटर्स मिराज, सुखोई और मिग 21 ने उनका सामना किया। आईएएफ ने उनके अटैक को नाकाम कर दिया। जवाबी कार्रवाई में पाकिस्तान का एक एफ-16 लड़ाकू विमान मार गिराया गया, जिसका मलबा  पीओके में गिरा। इस दौरान भारत का केवल एक मिग 21 गिर गया और भारतीय पायलट को पाक ने हिरासत में ले लिया। पाक यह झूठ बोल रहा है कि उसका कोई विमान नहीं  गिरा है। एयर वाइस मार्शल ने कहा कि हमने पाकिस्तान के दो पायलटों को गिरते हुए देखा था।

पड़ोसी का दूसरा झूठ : पाकिस्तान यह दावा कर रहा है कि उसने खुले में बम गिराए हैं, जबकि भारतीय वायुसेना ने साफ कहा है कि पाकिस्तानी लड़ाकू विमान के निशाने पर  भारतीय सैन्य ठिकाने थे। एयर वाइस मार्शल ने कहा कि पाक जेट ने मिलिट्री प्रतिष्ठान को निशाना बनाया और ऑर्मी परिसर में पाक ने बम गिराए। हालांकि इससे कोई नुकसान  नहीं हुआ।

तीसरा बड़ा झूठ : पाक कह रहा है कि उसने इस पूरे एक्शन में अपने एफ-16 फाइटर जेट का इस्तेमाल नहीं किया। पाकिस्तान के इस झूठ को बेनकाब करते हुए एयर वाइस मार्शल  कपूर ने एफ-16 से दागी गई उस मिसाइल के टुकड़े दिखाए जो भारतीय क्षेत्र में मिले हैं। उन्होंने आगे कहा कि पाकिस्तान के पास सिर्फ एक प्लेन है, जो ऐमरैम मिसाइल लेकर उड़  सकता है। इसका मतलब है कि पाकिस्तान ने एफ-16 का इस्तेमाल किया। इलेक्ट्रॉनिक सिग्नेचर भी मैच किया गया है। उन्होंने यह भी कहा कि पाक मीडिया में जिस प्लेन का  मलबा दिखाया जा रहा है वह दरअसल, मिग 21 का नहीं, एफ-16 का है।

एफ-16 जेट से दागी मिसाइल के दिखाए टुकड़े : आईएएफ ने एफ-16 जेट द्वारा दागी गई ऐमरैम मिसाइल के टुकड़े दिखाए। पाकिस्तान ने इसे भारतीय सैन्य ठिकानों को निशाना  बनाकर दागा था, जो नाकाम रहा। मिसाइल के टुकड़े राजौरी से मिले थे। एक सवाल के जवाब में एयर वाइस मार्शल ने कहा कि हमें पता चला है कि विंग कमांडर अभिनंदन को पाक कल छोड़ेगा, हमें इसकी खुशी है। इससे ज्यादा उन्होंने इस पर कुछ नहीं कहा।

दो दिन में 35 बार सीजफायर उल्लंघन : सेना ने कहा कि आतंकियों के खिलाफ ऐक्शन के बाद पाकिस्तान ने 26 फरवरी को कई इलाकों में संघर्षविराम का उल्लंघन किया। इसके  बाद सेना ने जवाब भी दिया है। 2 दिनों में पाकिस्तान ने 35 बार सीजफायर उल्लंघन किया है। सेना की तरफ से मेजर जनरल सुरेंद्र सिंह महल ने कहा कि 27 फरवरी को पाक  एयर फोर्स ने मिलिट्री के ब्रिगेड मुख्यालय, बटैलियन मुख्यालय और अन्य ठिकानों को निशाना बनाने की कोशिश की थी। हालांकि हमारी फौज तैयार थी और उन्हें नाकाम कर दिया  गया। हम देश को बता देने चाहते हैं कि पाकिस्तान की किसी भी हरकत का जवाब देने के लिए सेना तैयार है।

हरकत हुई तो करारा जवाब मिलेगा : नेवी से रियर एडमिरल डीएस गुजराल ने कहा कि नेवी हर तरह से तैयार है और पाकिस्तान समंदर में कोई हरकत करता है, तो उसे करारा  जवाब दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि हम आर्मी और एयर फोर्स के साथ एकजुट हैं और देश को पूरी सुरक्षा करेंगे।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget