सीएसटी स्टेशन के पास गिरा फुट ओवर ब्रिज

मुंबई
मुंबई में गुरुवार शाम छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस के पास एक फुट ओवर ब्रिज गिरने के कारण 6 लोगों की मौत हो गई, जबकि 30 से अधिक लोग घायल हैं। घायलों को  अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। इस दर्दनाक घटना पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस ने दुख व्यक्त किया है, जबकि मंत्री विनोद तावड़े ने कहा  है कि घटना की जांच कराई जाएगी।
जानकारी के अनुसार यह हादसा गुरुवार शाम करीब 7:30 बजे हुआ। जिस वक्त यह घटना हुई पीक आवर होने के कारण पुल के नीचे बड़ी संख्या में लोग मौजूद थे। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार, हादसे के बाद ब्रिज के मलबे में कई लोग दब गए और यहां मौजूद कुछ वाहन भी क्षतिग्रस्त हुए। दूसरी ओर मौके पर पहुंची एनडीआरएफ, रेलवे और मुंबई पुलिस की  टीमों ने तत्काल घायलों को सेंट जॉर्ज और गोकुलदास तेजपाल अस्पताल में पहुंचाया। यहां चिकित्सकों ने तीन लोगों को तत्काल मृत घोषित कर दिया। घटनास्थल पर पहुंचे  मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस ने कहा कि यह ब्रिज 1980 में बना था और अभी पुल का स्ट्रक्चरल ऑडिट किया गया था, जिसमें मामूली मरम्मत की बात कही गई थी।
सीएम फड़नवीस ने कहा कि जांच कर स्ट्रक्चरल ऑडिटर के ऊपर मामला दर्ज किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने मृतक के परिजनों को 5-5 लाख और घायलों को 50-50 हजार रुपए  सहायता राशि देने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि जिस स्थान पर यह हादसा हुआ, उससे कुछ ही दूरी पर मुंबई पुलिस और मुंबई महानगरपालिका के मुख्यालय स्थित हैं। मनपा  कमिश्नर और मुंबई पुलिस के अधिकारियों से बात की है और उन्हें निर्देश दिए हैं कि वे रेल मंत्रालय के अधिकारियों के साथ समन्वय बनाकर काम करें और तेजी के साथ राहत  और बचाव कार्य करें।
सेंट्रल रेलवे के डीआरएम डीके शर्मा के अनुसार, जिस ब्रिज के गिरने से यह हादसा हुआ, उसकी देखरेख का काम मनपा करती है। उन्होंने बताया कि ब्रिज का निर्माण रेलवे ने कराया  था, लेकिन रखरखाव की जिम्मेदारी मनपा की ही थी। वहीं मंत्री विनोद तावड़े ने कहा कि रेलवे और मनपा इसकी मेंटनेंस के बारे में जांच करेगी। ब्रिज खराब कंडीशन में नहीं था,  इसमें छोटी-मोटी रिपेयरिंग की जरूरत थी, जोकि जारी थी। काम पूरा नहीं हुआ फिर भी इसे चालू रखा गया था, इसके बारे में भी जांच की जाएगी। घटनास्थल पर मौजूद लोगों के  अनुसार यह हादसा और भीषण होता, यदि रेड सिग्नल नहीं हुआ होता। रेड सिग्नल ने कई लोगों की जिंदगी बचा दी। इसमें एक टैक्सी क्षतिग्रस्त हुई है।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget