देश के दुश्मनों से चुन-चुनकर लेंगे हिसाब

पटना
लोकसभा चुनाव से ठीक पहले रविवार को पटना के गांधी मैदान में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) ने 'संकल्प’ रैली के जरिए अपनी ताकत दिखाई। इस ऐतिहासिक रैली में जुटी  भीड़ को देखकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गदगद दिखे। रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने बिहार में हो रहे विकास के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की सराहना की। साथ ही  विपक्षी महागठबंधन पर तंज कसे। उन्होंने गरजते हुए कहा कि उनकी सरकार देश के दुश्मनों से चुन-चुनकर हिसाब लेगी।
प्रधानमंत्री के पहले जनता दल यूनाइटेड (जदयू) सुप्रीमो व मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने संबोधित किया। इसके पहले लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) सुप्रीमो एवं केंद्रीय मंत्री रामविलास  पासवान ने भी रैली को संबोधित किया।

आश्वस्त रहिए, चौकीदार चौकन्ना है

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत माता की जय के साथ अपना संबोधन शुरू किया। फिर मैथिली, मगही और भोजपुरी में जनता का अभिवादन किया। बिहार की विभूतियों को भी याद  किया। उन्होंने पुलवामा के शहीद संजय सिन्हा और रतन ठाकुर तथा शहीद ङ्क्षपटू कुमार सहित बिहार के सभी शहीदों को नमन किया। प्रधानमंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश  कुमार के नेतृत्व में बिहार पुराने दौर से निकल रहा है। नीतीश कुमार और सुशील मोदी की जोड़ी ने बिहार में अद्भुत काम किया है। बिहार को अपराध और भ्रष्टाचार से मु€त कराने  का संकल्प लेकर उस बदतर हालात से बाहर निकाला गया है। बिहार विकास की रफ्तार पकड़े, इसके लिए हमारा लागातार प्रयास रहा है। प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार बिहार में  विकास की पंचधारा बहाने पर काम कर रही है। इसके अंतर्गत बच्चों को पढ़ाई, युवाओं को कमाई, बुजुर्गों को दवाई, किसानों को सिंचाई तथा जन-जन की सुनवाई के लिए काम हो  रहे हैं। बिहार की चर्चा करते हुए कहा कि नीतीश कुमार ने नल से जल दिया। सात करोड़ गरीब बहनों को रसोई गैस कने€शन दिए गए हैं। अब पाइप से गैस भी दी जा रही है।  पटना में मेट्रो का काम शुरू हो चुका है। पटना जं€शन को आधुनिक बनाया जा रहा है। बिहार के विकास की गति में केंद्र का सहयोग रहा है।
प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार ने लूट-खसोट, भ्रष्टाचार और बिचौलियों की संस्कृति पर रोक लगाई है। इससे प्रभावित लोग चौकीदार से परेशान हैं। उनमें गालियां देने का कंपटीशन  चल रहा है, लेकिन आप आश्वस्त रहिए, आपका चौकीदार पूरी तरह से चौकन्ना है। गरीबों के हक के फैसले डंके की चोट पर लिए गए और लिए जाएंगे।

हमने सवर्ण गरीबों को 10  फीसदी आरक्षण दिया है

उन्होंने कहा कि राजग सरकार के पहले पांच साल जरूरतों को पूरा किया, अब 1919 के बाद नई ऊंचाई पर पहुंचने का समय है। राजग ने मजबूत नींव तैयार की है। अब इस नींव  पर समृद्ध, सश€त भारत का निर्माण किया जाएगा। अगर मिलावट की सरकार होती, तो कोई काम नहीं होता। विपक्षी महागठबंधन पर तंज कसते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि  महामिलावट के घटक अपने लिए जीते हैं। जब हमारी सेनाएं आतंक से लड़ाई में लगी हैं, वे €या कर रहे हैं? देश की सक्षम सेनाएं आतंक को कुचलने में लगी हैं। ऐसे समय में देश  के भीतर ही कई लोग ऐसी बातें कर रहे हैं, जिससे पाकिस्तान में तालियां बज रही हैं।
जब आतंक की फैक्ट्री चलाने वालों के खिलाफ एक सुर में साथ देने की जरूरत थी, तब 21 विपक्षी पार्टियां केंद्र के खिलाफ निंदा प्रस्ताव पारित कर रहीं थीं। देश का कोई भी आदमी  उन्हें माफ नहीं करोगा? अब इन्हीं दलों के नेता हमारे जवानों के पराक्रम पर संदेह कर रहे हैं। जैसे सर्जिकल स्ट्राइक का सबूत मांगा जा रहा था, अब वे हवाई हमले का भी सबूत  मांगने लगे हैं। मैं कांग्रेस और उसके सहयोगी दलों से जानना चाहता हूं कि वे हमारे वीर जवानों का मबानेबल तोड़ने में €यों लगे हैं? उन्होंने कहा कि भारत अब वीर जवानों के  बलिदान पर चुप नहीं बैठता है। चुन-चुनकर हिसाब लेता है। नरेंद्र मोदी ने कहा कि भारत इस्लामिक देशों की बैठक में 50 साल बाद शामिल हुआ। उन्होंने सवाल किया कि कांग्रेस  की सरकार यह €यों नहीं कर सकी? बताया कि सऊदी प्रिंस से भोजन पर कहा कि भारत के मुसलमान तेजी से विकास कर रहे हैं, तो उन्होनें हज का कोटा दो लाख कर दिया।

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget