सीमा पर भारी गोलाबारी

पाक ने आम लोगों को बनाया निशाना, भारत का करारा जवाब


जम्मू
पुलवामा में 14 फरवरी को आतंकवादी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवानों के शहीद होने के बाद भारत की तरफ से की गई कार्रवाई के बाद से पाकिस्तान बौखलाया हुआ है। पाक  की तरफ से नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर लगातार भारी तोपखाने से नागरिक ठिकानों और भारतीय चौकियों पर गोलाबारी की जा रही है। पाकिस्तान की ओर से लगातार सीजफायर  उल्लंघन और नागरिक ठिकानों पर गोलाबारी पर भारतीय सेना ने पाकिस्तान को कड़ी चेतावनी दी है।
इससे पहले बुधवार को पाकिस्तानी सैनिकों ने सुबह 10.30 एलओसी पर गोलाबारी की। भारतीय सेना ने इसका मुंहतोड़ जवाब दिया। एक आंकड़े के मुताबिक 14 फरवरी से अब तक  पाकिस्तान नियंत्रण रेखा पर, खासकर राजौरी और पुंछ जिलों में पाकिस्तान ने संघर्ष विराम का 60 से अधिक बार उल्लंघन कर चुका है। रक्षा सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक  बुधवार को भारी गोलाबारी हुई। रक्षा अधिकारियों ने इसे एक ही दिन में तीसरा संघर्ष विराम उल्लंघन बताया। रक्षा मंत्रालय के प्रव€ता लेफ्टक्निेंट कर्नल देवेंद्र आनंद ने कहा कि जौरी  के नौशेरा और सुंदरबनी से€टरों में नियंत्रण रेखा के पास छोटे हथियारों और तोपों से भारी गोलाबारी की गई। भारतीय सेना ने इसका दृढ़ता और प्रभावी तरीके से जवाब दिया। सेना ने  अपने एक बयान में कहा है कि नागरिकों को निशाना न बनाने की चेतावनी के बाद एलओसी पर फिलहाल शांति कायम है। पिछले 24 घंटे में पाकिस्तानी सेना ने बिना उकसावे के भारी हथियारों से सुंदरबनी और कृष्णा घाटी के इलाकों में फायरिंग की और मोर्टार दागे हैं। गोलीबारी के जरिए भारतीय पोस्ट को निशाना भी बनाया गया। भारत ने जवाबी हमला  किया है। भारत की ओर से कोई हताहत नहीं है।
पांच किमी तक सभी शिक्षण संस्थान बंद इससे पहले पाक सेना ने बिना उकसावे के सुंदरबनी से€टर में मंगलवार को लगभग 10.30 बजे से संघर्ष विराम का उल्लंघन कर गोलीबारी  की। इसके बाद गोलीबारी अस्थाई तौर पर थम गई। राजौरी के नौशेरा से€टर और पुंछ के कृष्णाघाटी से€टर में मंगलवार को भी दोनों सेनाओं के बीच भारी गोलीबारी हुई थी। इस दौरान  राजौरी के कलाल इलाके में एक सैनिक घायल हो गया था। इन दोनों जिलों में नियंत्रण रेखा से पांच किलोमीटर की दूरी के भीतर सभी शिक्षण संस्थान बंद हैं। पिछले दिनों चार  लोग मारे गए थे उधर, राजौरी और पुंछ जिलों में पाकिस्तान ने संघर्ष विराम उल्लंघन से यहां एक ही परिवार के तीन सदस्यों सहित चार लोग मारे गए।
बुधवार को हुए युद्धविराम उल्लंघन पर अधिकारियों ने कहा कि भारतीय सेना ने भी मजबूत और प्रभावी जवाब दिया है। अधिकारियों के मुताबिक दोनों ओर से भारी गोलीबारी की  वजह से सीमाई इलाकों में रहने वाले लोगों के बीच अफरातफरी फैल गई। उन्होंने कहा कि इस दौरान भारत की तरफ से किसी के भी हताहत होने की खबर नहीं मिली है। रक्षा  विशेषज्ञों के अनुसार एक तरह से सीमा पर अघोषित युद्घ हो रहा है।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget