फरंगी महली को लोकसभा की चुनाव की तारीखों पर आपत्ति

लखनऊ ईदगाह के इमाम व शहरकाजी मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली ने 6 मई से 19 मई के बीच होने वाले लोकसभा चुनाव को लेकर कड़ी नाराजगी जताई है। मौलाना फरंगी  महली ने कहा कि पांच मई को मुसलमानों के सबसे पवित्र महीने माहे रमजान का चांद देखा जाएगा। मौलाना ने कहा कि अगर चांद दिख जाता है, तो 6 मई से रोजा शुरू हो जाएगा। रोजा के दौरान देश में 6 मई, 12 मई व 19 मई को मतदान होगा, जिससे देश के करोड़ों रोजेदारों को परेशानी होगी। उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग को देश के मुसलमानों  का ख्याल रखते हुए चुनाव कार्यक्रम तय करना चाहिए था।
मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली को 6 मई को पांचवें चरण और उसके बाद की तारीखों पर ऐतराज है। उनका कहना है कि चुनाव की तारीखें रोजे के बीच पड़ रही हैं। इससे  रोजेदारों को खासी परेशानी हो सकती है। उन्होंने इन तारीखों पर पुनर्विचार करने की मांग चुनाव आयोग से की है। उन्होंने चुनाव आयोग से मांग की है कि वह 6, 12 व 19 मई को  होने वाले मतदान की तिथि बदलने पर विचार करे। चुनाव आयोग को देश के मुसलमानों का ख्याल रखते हुए चुनाव कार्यक्रम तय करना चाहिए था। चुनाव आयोग ने देश में सात  चरण में लोकसभा चुनाव कराने की घोषणा की है। इसके तहत पहले चरण का चुनाव 11 अप्रैल को, दूसरे चरण का चुनाव 18 अप्रैल को, तीसरे चरण का चुनाव 23 अप्रैल को, चौथे  चरण का 29 अप्रैल को, पांचवें चरण का 6 मई, छठे चरण का 12 मई और 7वें चरण का चुनाव 19 मई को होगा। 23 मई को लोकसभा चुनाव की मतगणना होगी। इसके बाद  सरकार के गठन की प्रक्रिया शुरू होगी।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget