ज्वेलरी पार्क में मिलेगा एक लाख लोगों को रोजगार

मुंबई
राज्य के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस ने कहा कि वर्ष 2025 तक महाराष्ट्र की अर्थव्यवस्था ट्रिलियन डॉलर्स बनाने का लक्ष्य रखा गया है और इस लक्ष्य को पूरा करने में जेम एंड  ज्वेलरी क्षेत्र का बड़ा योगदान होगा। मुख्यमंत्री ने मुंबई में जेम एंड ज्वेलरी विश्वविद्यालय स्थापित करने की घोषणा की। वे नवी मुंबई के महापे में इंडिया ज्वेलरी पार्क के भूमिपूजन  अवसर पर बोल रहे थे। इस मौके पर केंद्रीय वाणिज्य मंत्री सुरेश प्रभु ने पार्क के लिए तत्काल जगह उपल ध कराने पर मुख्यमंत्री और उद्योग मंत्री का आभार प्रकट किया। इस  पार्क के जरिए 1 लाख लोगों को रोजगार के अवसर उपलब्ध होंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि जब वे पिछले साल जेम एंड ज्वेलरी एक्सपोर्ट प्रमोशन काउंसिल कांफ्रेंस में शामिल हुए थे,  उस वक्त पार्क को लेकर चर्चा हुई थी। यह बेहद संतोष की बात है कि बेहद कम समय में सभी प्रक्रियाओं को पूरा कर आज परियोजना का भूमिपूजन हो रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा  निर्यात के मामले में भारत आगे हैं और इस पार्क का विशेष पार्क के रूप में दुनिया भर में उल्लेख होना चाहिए। कारीगरों को मिलेंगे घर: मुख्यमंत्री ने कहा कि इस व्यवसाय में  सुरक्षा का खासा महत्व है, जो इस प्रस्तावित पार्क को उपल ध होगी। यहां तकरीबन 1 लाख लोग काम करेंगे। इसमें से अनेक कारीगर भी होंगे। इन सभी को पार्क के नजदीकी  इलाकों में प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत घर उपल ध कराने के प्रयास किए जाएंगे। जेम एंड ज्वेलरी क्षेत्र का व्यापार 100 बिलियन डॉलर्स तक जाने की क्षमता है। महाराष्ट्र को  ट्रिलियन डॉलर्स इकोनॉमी बनाने में इस क्षेत्र का बड़ा योगदान होगा।

स्वतंत्र विश्वविद्यालय स्थापित होगा:
मुख्यमंत्री ने कहा कि इस क्षेत्र में काम करने के लिए कौशल्य आवश्यक है। अनेक लोग, युवा यहां काम करते हैं। इसके लिए उन्होंने जेम एंड ज्वेलरी विश्वविद्यालय मुंबई सहित परिसर केंद्र स्थापित करने की घोषणा की। निजी विश्वविद्यालय के कानून के मापदंडों के अनुसार यहां केंद्र शुरु किए जा सकते हैं।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget