ओलंपिक €क्वॉलीफाई करने पर है पूरा फोकस: मेरीकॉम

नई दिल्ली
दिग्गज महिला मु€केबाज एमसी मेरीकॉम ने कहा कि एशियाई चैंपियनशिप में भाग नहीं लेने का उनका फैसला ओलंपिक €क्वॉलीफिकेशन के लिए एक बड़ी योजना का हिस्सा है, जहां उनके वजन वर्ग में काफी कठिन मुकाबला होगा। मेरी ने पिछले साल दिल्ली में अपना छठा विश्व खिताब जीता था। उनका लक्ष्य रूस के येकातेरिनबर्ग में होने वाली वर्ल्ड  चैंपियनशिप से 2020 तो€यो ओलंपिक के लिए €क्वॉलीफाई करना है। एशियाई चैंपियनशिप का आयोजन अगले महीने थाइलैंड में होगा। मेरीकॉम ने कहा कि मेरे लिए यह काफी अहम  साल है। मेरा मुख्य लक्ष्य टो€यो ओलंपिक के लिए €क्वॉलीफाइ करना है। मैं प्रतियोगिता में भाग लिए बिना ओलंपिक के लिए €क्वॉलीफाइ नहीं कर सकती हूं। मुझे मेरे भारवर्ग के सभी  प्रतिद्वंद्वियों के बारे में पता होने के साथ यह भी मालूम होना चाहिए कि मेरी तुलना में वे कितनी मजबूत हैं। भारतीय बॉक्सर ने कहा कि मुझे पहले इंडिया ओपन में भाग लेना है और फिर 51 किग्रा वर्ग में अपने टूर्नामेंट का चयन करना है। मेरा ध्यान ओलंपिक के लिए €क्वॉलीफाइ करने पर है और यही कारण है कि मैंने एशियाई चैंपियनशिप को छोड़कर  वर्ल्ड चैंपियनशिप के लिए सर्वश्रेष्ठ तैयारी करने का फैसला किया है। लंदन ओलंपिक की ब्रांज मेडलिस्ट ने कहा कि सही योजना के बिना मैं ओलंपिक का टिकट नहीं कटा सकती।  मेरे लिए इंडिया ओपन भी बहुत महत्वपूर्ण है। इसलिए मैंने ओलंपिक €क्वॉलीफिकेशन करने के लिए कुछ महत्वपूर्ण टूर्नामेंटों को चुनने का मन बनाया है। एआईबीए विश्व मु€केबाजी चैंपियनशिप का आयोजन 7 से 21 सितंबर तक होगा। 36 साल की मेरीकॉम 51 किग्रा वर्ग में भाग लेंगी, €योंकि उनके पसंदीदा 48 किग्रा वर्ग को ओलंपिक में शामिल नहीं किया  गया है।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget