’सुपर पावर’ बना भारत

नई दिल्ली
भारत ने अंतरिक्ष में एंटी मिसाइल से एक लाइव सैटेलाइट को मार गिराते हुए अपना नाम अंतरिक्ष महाशक्ति के तौर पर दर्ज कराया और ऐसी क्षमता हासिल करने वाला दुनिया का  चौथा देश बन गया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 'मिशन शक्ति’ को लेकर राष्ट्र को संबोधित करने के तुरंत बाद इस सफल अभियान के संचालन में शामिल वैज्ञानिकों को बधाई देते हुए  प्रधानमंत्री ने कहा कि निर्धारित लक्ष्य को हासिल करने के लिए पूरा देश अपने वैज्ञानिकों पर गर्व कर रहा है। 'मिशन शक्ति’ के सफल परीक्षण से भारत उपग्रह रोधी प्रक्षेपास्त्र के  माध्यम से उपग्रहों को सफलतापूर्वक निशाना बनाने की क्षमता वाला विश्व का चौथा देश बन गया है। मोदी ने कहा कि मेक-इन इंडिया पहल के अनुरूप वैज्ञानिकों ने विश्व को यह  संदेश दिया है कि हम किसी से कम नहीं हैं। प्रधानमंत्री ने जोर देकर कहा कि वैश्विक शांति और क्षेत्रीय शांति के लिए भारत को सक्षम और मजबूत बनना पड़ेगा।
मोदी ने कहा कि इस प्रयास में वैज्ञानिकों ने समर्पण के साथ योगदान दिया है। उन्होंने केंद्रीय मंत्रिमंडल की ओर से वैज्ञानिकों को बधाई दी। बयान में कहा गया है कि वैज्ञानिकों ने  इस अवसर पर प्रधानमंत्री को धन्यवाद दिया। प्रधानमंत्री ने कहा कि हमारे वैज्ञानिकों ने अंतरिक्ष में 300 किमी दूर पृथ्वी की निचली कक्षा (एलईओ) में एक लाइव सैटेलाइट को मार  गिराया है। यह लाइव सैटेलाइट एक पूर्व निर्धारित लक्ष्य था, जिसे एंटी सैटेलाइट द्वारा मार गिराया गया है। यह अभियान तीन मिनट में सफलतापूर्वक पूरा किया गया है। प्रधानमंत्री  ने कहा कि भारत अंतरिक्ष में निचली कक्षा में लाइव सैटेलाइट को मार गिराने की क्षमता रखने वाला चौथा देश बन गया है।
अब तक यह क्षमता अमेरिका, रूस और चीन के ही पास थी। डीआरडीओ के चेयरमैन जी. सतीश रेड्डी ने कहा कि हमने दुनिया को बता दिया है कि हम सैटेलाइट्स को कुछ सेंटीमीटर पास जाकर भी गिरा सकते हैं। डीआरडीओ के पूर्व प्रमुख डॉ. वीके सारस्वत का कहना है कि अगर विरोधी देशों ने अंतरिक्ष में हथियार तैनात किए, तो भारत उनका  मुकाबला करने की स्थिति में होगा। वहीं, डिफेंस एक्सपर्ट कर्नल (रिटायर्ड) यूएस राठौड़ ने कहा कि जंग की स्थिति में यह मिसाइल टेक्नोलॉजी दुश्मन देश में ब्लैक आउट जैसी  स्थिति पैदा कर सकती है।

चीन-पाक की उड़ी नींद!
चीन ने कहा कि उम्मीद है सभी देश अंतरिक्ष में शांति बनाए रखेंगे। भारत की इस सफलता के बाद पाकिस्तान ने कहा है कि भारत काल्पनिक दुश्मन ढूंढ़ रहा है। पाक विदेश  मंत्रालय द्वारा जारी एक बयान में कहा गया कि पाकिस्तान अंतरिक्ष के सैन्यीकरण के खिलाफ है।

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget