बिहार बंद : गजपा कार्यकर्ताओं के साथ पुलिस की नोकझोंक

मुजफ्फरपुर
विभिन्न मांगों को लेकर गरीब जनक्रांति पार्टी (गजपा) की ओर से आहूत बिहार बंद के दौरान रविवार को सड़कों पर कार्यकर्ता उतरकर विरोध प्रदर्शन किया। आगजनी कर जमकर  प्रदर्शन किया गया। इस दौरान कई जगहों पर सड़क को जाम कर दिया। कार्यकर्ताओं ने बैरिया गोलंबर को जाम कर दिया, जिससे आवागमन पूरी तरह ठप हो गया। जाम की सूचना  पर पहुंची अहियापुर थाना की पुलिस ने कार्यकर्ताओं को जाम समाप्त करने को कहा लेकिन वे नहीं माने। इसके बाद जाम करने वाले नेताओं को हिरासत में लेने में जुट गई,  जिससे कार्यकर्ताओं का आक्रोश बढ़ गया। इसके बाद कार्यकर्ता व पुलिस के बीच नोकझोंक हुई। बैरिया से दो नेताओं व जीरो माइल से चार नेताओं को हिरासत में लिया गया।  जिनको हिरासत में लिया गया, उनमें पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष विकास कृष्ण, प्रव€ता दीनबंधु, नवीन ठाकुर, रामाधार साह, संजीव यादव व मुकेश पाठक शामिल है। जीरो माइल में  जाम के कारण करीब ढाई घंटे तक आवागमन बाधित रहा। बैरिया में जाम के कारण वाहनों की कतार दोनों तरफ लग गई। बंदी का शहर में कोई खास असर नहीं दिखा। दुकानें  समान्यत: खुली रही। शहर के विभिन्न भागों में सड़क को कार्यकर्ताओं ने जाम कर दिया। जाम के कारण लोगों की परेशानी बढ़ गई। गोबरसही, खबरा, अखाड़ाघाट, प€कीसराय, रहुआ  और कच्ची प€की आदि जगहों पर भी यातायात बाधित रहा। विभिन्न जगहों पर जाम के दौरान बसों का परिचालन बाधित हो गया। नेताओं की गिरफ्तारी के बाद स्थिति सामान्य हुई।  वहीं, सड़क जाम करने को लेकर हिरासत में लिए गए सभी छह नेताओं पर प्राथमिकी दर्ज की गई। समान शिक्षा, स्वास्थ्य प्रणाली और किसानों की कर्ज माफी के साथ-साथ राज्य  में बंद पड़ी चीनी मिलों को चालू करवाने की मांग को लेकर पार्टी ने बंद की घोषणा की थी। बंदी के दौरान इन मांगों को पूरा करने के लिए कार्यकर्ताओं ने जमकर सरकार के खिलाफ  नारेबाजी की।

Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget