काबुल में राजनीतिक सभा के पास धमाका

काबुल
पश्चिमी काबुल में गुरुवार को हुए एक धमाके के बाद एक बड़े समारोह में अफरातफरी मच गई, जिससे कार्यक्रम को अचानक रद्द कर दिया गया। इसमें शामिल होने आए लोग जान  बचाने के लिए वहां से भागने लगे। कार्यक्रम में अधिकारी और राजनेता भी शामिल होने पहुंचे थे। निचले सदन के पूर्व अध्यक्ष मोहम्मद यूनुस कानूनी ने कार्यक्रम के सीधे प्रसारण के  दौरान कहा कि 'शांति बनाए रखिए, विस्फोट वाली जगह हमसे दूर है।’ घोषणा के कुछ ही पल बाद अन्य धमाके की आवाज सुनाई दी, जिसके बाद लोग वहां से भागने लगे। यह  विस्फोट शिया हजारा नेता अब्दुल अली मजारी की 24वीं बरसी मनाने के लिए रखे गए एक कार्यक्रम के दौरान हुआ। इस कार्यक्रम में अब्दुल्ला एवं पूर्व राष्ट्रपति हामिद करजई  समेत देश के कई राजनीतिक दिग्गज शामिल हुए थे। अब तक किसी समूह ने विस्फोट की जिम्मेदारी नहीं ली है और न ही किसी के हताहत होने की खबर मिली है। घटना ऐसे  समय में हुई है, जब अमेरिका एवं तालिबान करीब 18 साल के संघर्ष को खत्म करने के लिए कतर में शांति वार्ता करना जारी रखे हुए हैं।
अफगानिस्तान के बड़े हिस्सों में बर्फबारी की वजह से इन सर्दियों में हिंसा में कुछ कमी आई है लेकिन देश के दक्षिणी हिस्से में मौसम गर्म होने के चलते बसंत आते ही हिंसा के  बढ़ने की आशंका है।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget