भगोड़ा हितेश पटेल गिरफ्तार

अल्बानिया
8100 करोड़ रुपए के बैंक लोन फ्रॉड मामले में आरोपी भगोड़े हितेश पटेल की अल्बानिया में गिरफ्तारी हो गई है। अल्बानिया के नेशनल क्राइम  यूरो ने 20 मार्च को पटेल को अरेस्ट  किया। उसे जल्द भारत प्रत्यर्पण किए जाने की उम्मीद है।

पीएमएलए कोर्ट में दर्ज है मामला :
पटेल के खिलाफ 11 मार्च को इंटरपोल ने रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया था। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने मुंबई स्थित प्रिवेंशन ऑफ मनी लांड्रिंग एक्ट (पीएमएलए) अदालत में उसके  खिलाफ मामला दर्ज कराया था। वह स्टर्लिंग बायोटेक मामले में भगोड़ा है। ईडी ने भगोड़ा आर्थिक अपराधी कानून के तहत नितिन, चेतन, दीप्ति संदेसरा और हितेश पटेल के खिलाफ  याचिका दायर की थी। चारों स्टर्लिंग बायोटेक के प्रमोटर हैं। यह गुजरात की फार्मा कंपनी है। बायोटेक का मालिक नितिन जयंतीलाल संदेसरा और उसका परिवार 8,100 करोड़ रुपए  के बैंक लोन फ्रॉड का आरोपी है। नितिन अपने परिवार सहित विदेश भाग गया। हितेश संदेसरा का रिश्तेदार है। संदेसरा परिवार पर मनी लांड्रिंग के भी आरोप हैं।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget