महागठबंधन का फॉर्मूला तय

पटना
तमाम कोशिशों के बावजूद बिहार में महागठबंधन की गांठ अभी तक नहीं सुलझी है। बीते एक हफ्ते से चल रहे महामंथन के बावजूद अब तक महागठबंधन में सीटों के बंटवारे का  अंतिम हल नहीं निकल पाया है। अब कहा जा रहा है कि बातचीत का दौर फिलहाल चलता रहेगा। हालांकि, सूत्रों के हवाले से ये खबर भी आ रही है कि कांग्रेस बिहार में 9 से  अधिक सीटों पर चुनाव लड़ सकती है और इस पर सहमति बन चुकी है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, आरजेडी 19, कांग्रेस 10, आरएलएसपी 4, हम 3, वीआईपी 2,  सीपीआई एमएल 1 और शरद यादव की एलजेडी 1 सीट पर चुनाव लड़ सकती है। वहीं, दूसरे फॉर्मूले पर भी बात हो रही है। इसके तहत आरजेडी+शरद यादव 20, कांग्रेस-9,  आरएलएसपी-5, हम-3, वीआईपी-2, सीपीआई (माले)- 1 सीट पर चुनाव लड़ सकती है। इस बीच, बिहार कांग्रेस के बड़े नेता ने कहा कि 'ऑल इज वेल’। कहा जा रहा है कि गठबंधन  को लेकर अंतिम स्वरूप पर कांग्रेस की नेताओं की बैठक में गठबंधन का फॉर्मूला तय कर लिया गया है। हालांकि महागठबंधन के सूत्रों के अनुसार आखिरी दौर में प्रेशर पॉलिटि€स का  दौर भी जारी है। जाहिर है सीट बंटवारे पर अब सारा दारोमदार कांग्रेस पर है कि वह आखिरी फैसला €या लेती है।
सूत्रों के अनुसार अगर बात नहीं बनी तो महागठबंधन दलों की संयु€त प्रेस कांफ्रेंस बुधवार को होगी। आरजेडी आखिरी व€त तक कांग्रेस के रुख का इंतजार करना चाहती है। अगर बात  नहीं बनेगी तो बुधवार को होने वाली प्रेस कांफ्रेंस में आरजेडी 9 सीटें छोड़कर बाकी दलों के सीट शेयरिंग का ऐलान कर देगी। इस पीसी में कांग्रेस शामिल होगी की नहीं इसको लेकर भी अभी अटकलों का दौर जारी है। हालांकि तेजस्वी यादव लगातार दिल्ली में इसपर सहमति बनाने के लिए लगातार कोशिश करते रहे हैं कि कांग्रेस गठबंधन में शामिल हो। सहयोगी  दलों ने भी कांग्रेस से बड़ा दिल दिखाने की अपील की है।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget