पीके के बयान से बच रही जदयू

पटना
जदयू के पार्टी कार्यालय में शुक्रवार को आयोजक्ति मिलन समारोह में गोपालगंज के चिकक्ति्सक आलोक कुमार सुमन जदयू में शामिल हो गए। इस मौके पर पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष  प्रशांत किशोर के बयान से राज्यसभा सांसद सह पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव आरसीपी सिंह बचते दिखे। प्रशांत किशोर का नाम लिए बगैर उन्होंने कहा कि यह उनका निजी बयान हो  सकता है। महागठबंधन से अलग होकर भाजपा के साथ जदयू ने जब सरकार बनाई थी, उस समय वह पार्टी में नहीं थे। जानकारी के मुताबिक, जदयू के पार्टी कार्यालय में शुक्रवार  को आयोजक्ति मिलन समारोह में गोपालगंज के चिकक्ति्सक आलोक कुमार सुमन जदयू में शामिल हो गए। इस मौके पर राज्यसभा सांसद सह पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव आरसीपी  सिंह ने कहा कि जनता दल यूनाइटेड ऐसी पार्टी है, जहां आप मेहनत करेंगे, तो आप किसी भी ऊंचाई को प्राप्त कर सकते हैं। यहां सिर्फ परिवार के नाम पर या जात के नाम पर या  धर्म के नाम पर या क्षेत्र के नाम पर नहीं, बल्कि आपमें कक्तिनी क्षमता है, कक्तिना परिश्रम करते हैं और कक्तिना लाभ पार्टी को देते हैं इस पर निर्भर करता है, आप किसी भी मुकाम  को हासिल कर सकते हैं। आरसीपी सिंह ने पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष द्वारा एक चैनल को दिए इंटरव्यू में दिए गए बयान पर कहा कि यह उनका निजी बयान है। उन्होंने कहा कि  जिस समय गठबंधन टूटा था, उस समय वे पार्टी में नहीं थे। गठबंधन टूटने के समय पार्टी की गतिविधियों की जानकारी नहीं रही होगी। इसलिए उन्होंने इस तरह की बात कही होगी।  महागठबंधन से अलग होने के फैसले पर पार्टी एकमत थी। राष्ट्रीय कार्यकारिणी और राज्य परिषद के सदस्यों ने पार्टी के फैसले को अनुमोदक्ति किया था। यह बयान उनका निजी हो सकता है।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget