हेल्थ कंडीशन में नुकसान पहुंचाता है पपीता

मैग्नीशियम, पोटेशियम, नियासिन, प्रोटीन और कैरोटीन और डायटरी फाइबर से भरपूर पपीता का सेवन सेहत के लिए काफी फायदेमंद होता है। मगर €या आप जानते हैं पपीता  खाना सेहत के लिए हानिकारक भी हो सकता है। जी हां, आयुर्वेद के अनुसार कुछ हेल्थ कंडीशन में पपीते का सेवन फायदे की बजाए नुकसान पहुंचा सकता है, तो चलिए आपको  बताते हैं कि आखिर पपीता को कब खाना चाहिए और कब नहीं।

गर्भवती महिलाएं न करें सेवन
भले ही पपीते का सेवन सेहत के लिए फायदेमंद हो, लेकिन प्रेग्नेंसी के दौरान इसका सेवन नुकसान ही पहुंचाता है। इसको खाने से गर्भपात होने का खतरा भी बना रहता है।  दरअसल, पपीता गर्भाशय को संकुचित कर देता है, जिससे गर्भपात का खतरा बढ़ जाता है।

ब्रेस्टफीडिंग कराते हैं तो इसे खाने से बचें गर्भावस्था के दौरान ही नहीं, बल्कि डिलीवरी होने के कुछ समय बाद तक भी पपीते का सेवन नहीं करना चाहिए। ऐसा इसलिए, €क्योंकि  पपीते में Papain नामक विषा€क्त पदार्थ होता है, जो छोटे बच्चे के लिए हानिकारक होता है। इसके अलावा जब तक बच्चा 1 साल का ना हो जाए उसको पपीता ना खिलाएं।

हो सकती है एलर्जी
जो लोग कैरोटेनेमिया नामक रोग से पीड़ित हैं उनको बिल्कुल भी पपीते का सेवन नहीं करना चाहिए। इसमें लेटे€स नाम का पदार्थ पाया जाता है जो कैरोटेनेमिया से पीड़ित लोगों में  स्किन एलर्जी का कारण बनता है।

BP की दवा के साथ खाना खतरनाक

पपीता शुगर लेवल को कम करता  है। ऐसे में अगर आपको लो ब्लड प्रेशर की समस्या है, तो गलती से भी इसका सेवन ना करें। वहीं अगर आप क्चक्क को नियंत्रित करने वाली  दवाई ले रहे हैं तो डॉ€क्टर की सलाह पर ही इसका सेवन करें।

किडनी स्टोन
अध्ययन के मुताबिक, ज्यादा मात्रा में विटामिन सी लेने से किडनी में पथरी की समस्या हो सकती हैं। वहीं पपीते में विटामिन सी काफी मात्रा में पाया जाता है, जिससे पथरी की  प्रॉŽब्लेम हो सकती है।

दस्त होने पर

पेट खराब, दस्त होने पर भी पपीते से दूर रहें। दस्त होने पर अगर आप पपीता खा लेते हैं, तो लेने के देने पड़ सकते हैं।

हार्ट से संबंधित परेशानी
जिन लोगों की हार्ट संबंधित परेशानी के चलते जो लोग खून पतला करने के लिए दवाईयां लेते हैं उन्हें पपीते से दूर रहना चाहिए। गले को कर सकता है प्रभावित दिनभर में 1 से  ज्यादा कप पपीता खाने से बचना चाहिए, क्योंकि ज्यादा पपीता खाने से आपका गला प्रभावित हो सकता है।

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget