कांग्रेस का 'डायरी बम’ फुस्स!

नई दिल्ली
कांग्रेस की तरफ से बालाकोट एयर स्ट्राइक पर सवाल पूछने और पार्टी के कई नेताओं पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाने के बाद भाजपा ने जोरदार हमला बोला है। पार्टी के वरिष्ठ नेता रविशंकर प्रसाद ने प्रेस कांफ्रेंस कर कहा कि कांग्रेस की पूरी कहानी एक डायरी के लूज पन्नों पर आधारित है। प्रसाद ने कहा कि इसके पीछे की कहानी जानना जरूरी है। उन्होंने  बताया कि कर्नाटक में कांग्रेस के एमएलसी गोविंद राजू थे, जो पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया के सलाहकार थे। उनके यहां रेड हुए थी तो एक डायरी मिली और उसमें एसजी और आरजी  का बार-बार नाम था। बता दें कि इसी रहस्यमय डायरी को लेकर यह विवाद शुरू हुआ।
भाजपा नेता ने कहा कि उसके बाद 2 अगस्त 2017 को कांग्रेस के नेता डी. शिवकुमार के यहां रेड होती है। वहां कई चीजें पकड़ी गईं। काफी बड़ा व्यापार है। कांग्रेस के सारे एमएलए  को संभालकर रखने के लिए उनके बड़े से मकान में लोग आते हैं। रेड के दौरान शिवकुमार ने आयकर विभाग की टीम को एक लूज शीट (डायरी के लूज पन्ने) भी पकड़ा दिए,  लेकिन वह फोटोकॉपी थी।’ शिवकुमार और लूज पन्ने प्रसाद ने कहा कि यह पूछे जाने पर कि आपको ये कहां से मिले, शिवकुमार ने कहा था कि मैं नेता हूं, मुझे मिल जाता है।  भाजपा नेता ने कहा कि कांग्रेस ने शुक्रवार को इसी लूज शीट के आधार पर प्रेस कांफ्रेंस की और झूठे आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि आईटी विभाग ने शिवकुमार का बयान लिया था  और पूछा गया कि आप इसे वैध ठहराते हैं और क्या आपके पास इसकी मूल कॉपी है? इस पर शिवकुमार ने मना कर दिया था।

क्यों नहीं किया केस?
शिवकुमार से पूछा गया कि अगर भाजपा के टॉप नेताओं को घूस दी गई, तो आपने ऐंटी करप्शन  यूरो या कर्नाटक लोकायुक्त को जानकारी क्यों नहीं दी। इस पर उन्होंने कहा था  कि उन्हें लूज शीट की सच्चाई का पता नहीं है, इसलिए उन्होंने केस नहीं किया। प्रसाद ने बताया कि आईटी विभाग ने येदियुरप्पा को बुलाया और पूछा कि यह आपके दस्तखत हैं,  तो उन्होंने नहीं में जवाब दिया। आईटी विभाग ने सेंट्रल फॉरेंसिक लैबरेटरी के पास हस्ताक्षर जांचने की प्रक्रिया शुरू की। लैबरेटरी ने डायरी पर जो दस्तखत है, उसकी मूल कॉपी  मांगी। शिवकुमार ने जवाब दिया कि मूल कॉपी उनके पास नहीं है।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget