राहुल के गढ़ मे गरजे पी एम

राहुल गांधी के गढ़ अमेठी में गरजते हुए पीएम मोदी ने कहा कि हमारी सरकार में ही पहला राफेल उड़ेगा। लोग वर्षों तक राफेल विमानों के सौदे पर बैठे रहे और जब सरकार जाने  की बारी आई तो उसको ठंडे बस्ते में डाल दिया। हमारी सरकार आई और 1.5 साल के भीतर सौदे पर मुहर लगाई और कुछ ही महीने में दुश्मन के होश उड़ाने के लिए पहला राफेल  विमान भारत के आसमान में होगा।

हमने साकार किया 'मेड इन अमेठी’ का सपना:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस अध्यक्ष  राहुल गांधी की संसदीय सीट से ही रविवार को उन पर निशाना साधा। पीएम मोदी ने राहुल गांधी पर वार करते हुए कहा कि वह घूम-घूम  कर मेड इन उज्जैन, मेड इन इंदौर और मेड इन जयपुर कहते हैं, लेकिन यह मोदी है, जिसने 'मेड इन अमेठी’ को सच कर दिखाया है। आधुनिक €लाशनिकोव-203 राइफलों के निर्माण के लिए बनी ऑर्डिनेंस फैक्ट्री का लोकार्पण करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि उन्होंने 1,500 लोगों को फैक्ट्री में रोजगार का वादा किया था, लेकिन अमेठी के लोगों की आंखों में  धूल झोंकते हुए सिर्फ 200 लोगों को रोजगार दिया गया। पीएम ने कहा कि अमेठी के युवाओं को धोखा देने वाले दुनिया में रोजगार के भाषण देते घूमते हैं।
जिन्होंने हमें वोट दिया, वो भी हमारे और जिन्होंने नहीं दिया, वो भी हमारे पीएम मोदी ने कहा कि 2014 में हमने सबका साथ-सबका विकास की बात कही थी। इसका अमेठी  उदाहरण है। जिन्होंने हमें वोट दिया, वो भी हमारे और जिन्होंने नहीं दिया, वो भी हमारे। जहां सीट मिली, वह भी हमारा है और जहां सीट नहीं मिली, वह भी हमारा है। पीएम मोदी ने रैली में मौजूद लोगों से सवालिया अंदाज में पूछा, 'मैं आपसे जानना चाहता हूं कि आधुनिक राइफलें न बनाकर हमारे वीर जवानों के साथ अन्याय हुआ कि नहीं हुआ। यहां के संसाधनों के साथ अन्याय हुआ या नहीं हुआ। रोजगार के लिए परेशान युवाओं के साथ अन्याय हुआ या नहीं।’

अमेठी में बनेगी दुनिया की सबसे खतरनाक असॉल्ट एके-203 राइफल:

भारत और पाकिस्तान में जारी तनातनी के बीच सेना को मजबूत करने के लिए केंद्र सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। अमेठी में रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि प्रधानमंत्री  की कोशिश और रूस के सहयोग से अमेठी में बंद पड़े यूनिट में एके 203 मॉर्डन राइफल बनाने का काम शुरू होगा। यहां भारतीय सेना के लिए 7.5 लाख राइफल्स बनाए जाएंगे।  सेना को एके-47 राइफल का आधुनिक वर्जन एके-203 से लैस किया जाएगा। इसके लिए भारत ने रूस के साथ समझौता किया है। इस करार के अनुसार, रूस के सहयोग से भारत  में सात लाख 50 हजार (750,000) असॉल्ट राइफलें बनेगी। एके-203 असॉल्ट राइफलों के लिए ओएफबी और रूसी कंपनी कंसर्न €लानिश्नकोव के बीच रक्षा सौदे पर करार हुआ है।  भारत और रूस की कंपनियां मिलकर इसे बनाएंगी। भारतीय सेना की पुरानी इंसास राइफल को रिप्लेस किया जाएगा।

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget