विपक्ष आतंकवाद के समर्थकों की शरणस्थली

नई दिल्ली
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमित शाह सहित भाजपा ने पाकिस्तान के बालाकोट में वायुसेना की एयर स्ट्राइक पर सवाल उठाने को लेकर विपक्षी दलों पर चौतरफा प्रहार किया है।  कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के करीबी और ओवरसीज कांग्रेस के चेयरमैन सैम पित्रोदा ने स्ट्राइक में मारे गए आतंकियों का हिसाब मांगा था। इसके साथ ही गुरुवार को समाजवादी  पार्टी नेता राम गोपाल यादव ने पुलवामा हमले को सियासी साजिश करार दिया था। मोदी ने शुक्रवार को एक के बाद एक चार ट्वीट कर पित्रोदा और यादव के बयानों को जवानों का  अपमान करार दिया। मोदी ने पित्रोदा के बयान से कांग्रेस को घेरते हुए कहा कि कांग्रेस ने पाकिस्तान नेशनल डे मनाना शुरू कर दिया है। हालांकि बैकफुट पर आई कांग्रेस ने पित्रोदा  के बयान से किनारा कर लिया है। मोदी के अलावा भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और वित्त मंत्री अरुण जेटली ने भी सैम पित्रोदा पर तीखा हमला किया।
अमित शाह ने ट्वीट किया, ''भाजपा और विपक्ष में अंतर स्पष्ट है। वे सेना पर संदेह करते हैं और हम गर्व। उनका दिल आतंकियों के लिए धड़कता है और हमारा तिरंगे के लिए।  इस चुनाव में आप अपने वोट की ताकत के जरिए कांग्रेस की इस संस्कृति पर सर्जिकल स्ट्राइक करें।’’

'गुरु’ पित्रोदा के बहाने जेटली का राहुल पर वार

जेटली ने राहुल गांधी के करीबी सैम पित्रोदा को लेकर कहा, ''यदि गुरु ऐसा हो तो शिष्य कितना निकम्मा हो सकता है, यह समझा जा सकता है। आज देश इस बात को भुगत रहा  है।’’ अरुण जेटली की गुरु-शिष्य वाली यह टिप्पणी सीधे तौर पर सैम पित्रोदा के बहाने राहुल गांधी पर हमला था। जेटली ने कहा कि आतंकवाद के खिलाफ भारत बैकफुट पर नहीं,  बल्कि फ्रंटफुट पर खेलेगा। आज पाकिस्तान में पित्रोदा की जबर्दस्त टीआरपी होगी। अरुण जेटली ने कहा, ''देश की भावनाओं को नहीं समझने वाले ही ऐसे बयान दे सकते हैं। दुनिया  के किसी देश ने सर्जिकल और एयर स्ट्राइक की निंदा नहीं की। हमने आम नागरिकों को टारगेट नहीं किया। पित्रोदा ने जो कहा, वहीं बातें पाकिस्तान कहता है। एक पार्टी में पाकिस्तान के समर्थन में बयान देने वाले नेता हैं, तो यह देश का दुर्भाग्य है।’’

क्या बोला था सैम पित्रोदा ने

लोकसभा चुनावों के लिए कांग्रेस की मेनिफेस्टो कमिटी के सदस्य सैम पित्रोदा ने एक इंटरव्यू में कहा था कि पुलवामा अटैक के लिए पूरा पाकिस्तान जिम्मेदार नहीं है। उन्होंने एयर  स्ट्राइक पर सवाल खड़े करते हुए कहा था, 'क्या एयर स्ट्राइक हुई? अगर हुई तो कितने लोग मारे गए? मुझे जानने का अधिकार है। पीएम मोदी ने इसके बाद ट्वीट कर कहा कि  कांग्रेस पार्टी देश की सेनाओं पर सवाल खड़ा कर रही है। उन्होंने लिखा, ''कांग्रेस राज घराने के वफादार ने मान लिया है कि कांग्रेस आतंकवादी ताकतों को जवाब नहीं देना चाहती थी।  यह न्यू इंडिया है और हम आतंकवाद को उसी भाषा में जवाब देंगे जो उसे समझ में आती है। मोदी ने एक दूसरे ट्वीट में समाजवादी पार्टी नेता राम गोपाल यादव को निशाने  पर  लिया। मोदी ने ट्वीट किया, " विपक्ष आतंकवाद का समर्थन करने और सशस्त्रबलों से सवाल करने का आदी हो गया है। रामगोपाल यादव का बयान उन सबकी बेइज्जती है जिन्होंने  कश्मीर को बचाने के लिए अपनी जान दे दी। यह हमारे शहीदों के परिवारों का अपमान है।’’
मोदी ने लोगों से कहा कि वे विपक्षी नेताओं से उनके बयानों को लेकर सवाल पूछें। उन्होंने लिखा कि विपक्ष आतंकवाद के समर्थकों की शरणस्थली बन गया है। उन्होंने कहा कि  विपक्ष बार-बार सेना की बेइज्जती करता है। मैं अपने देशवासियों से अपील करता हूं कि आप इन लोगों से उनके बयान पर सवाल पूछें। उन्हें बता दें कि 130 करोड़ लोग उन्हें माफ  नहीं करेंगे। पूरा भारत हमारी सेना के साथ है। जनता माफ नहीं करेगी।

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget