पस्त दिल्ली-बैंग्लोर के बीच होगा वापसी का मुकाबला

बैंग्लोर
कोलकाता नाइटराइडर्स के हाथों बड़े स्कोर के बावजूद मिली दिल तोड़ने वाली हार से पस्त रॉयल चैलेंजर्स बैंग्लोर की टीम आज अपने घरेलू मैदान पर उतार-चढ़ाव से गुजर रही  दिल्ली डेयरडेविल्स के खिलाफ आईपीएल में लगातार 6ठी हार की शर्मिंदगी से बचना चाहेगी। देश के स्टार खिलाड़ी और कप्तान विराट कोहली की अगुवाई में बैंग्लोर की कहानी  आईपीएल के पिछले संस्करणों जैसी ही इस बार भी है और टीम अच्छे प्रदर्शन के बावजूद पिछले पांच मैचों में सभी हारकर तालिका में आखिरी 8वें स्थान पर है। वहीं नए नाम  और लोगो के साथ श्रेयस अय्यर की कप्तानी में दिल्ली कैपिटल्स 5 मैचों में 2 ही जीत सकी है और 3 मैच हारकर वह भी 4 अंक ही कमा सकी है। दिल्ली अभी 5वें नंबर पर है।  दिल्ली और बैंग्लोर दोनों ही पिछले मैच हारने के बाद रविवार को मैच में उतरेंगी। दिल्ली को अपने घरेलू कोटला मैदान पर सनराइजर्स हैदराबाद से पिछले मैच में 5 विकेटों से हार  झेलनी पड़ी थी, जबकि बैंग्लोर को केकेआर ने पिछले मैच में 5 विकेट से हराया। इस मैच में बैंग्लोर विराट की 84 और एबी डिविलियर्स की 63 रनों की बेहतरीन पारियों और 3  विकेट पर 203 रन का बड़ा स्कोर बनाने के बावजूद हार गई। इस मैच में टीम के गेंदबाजों ने सबसे अधिक निराश किया, जो बड़े स्कोर का बचाव नहीं कर सके और विपक्षी टीम के  आंद्रे रसेल ने 27 गेंदों में 7 छ के जड़ते हुए पूरा मैच बदलकर रख दिया। इस मैच में बैंग्लोर के गेंदबाजों में टिम साउथी 4 ओवरों में 61 रन लुटाकर सबसे महंगे साबित हुए थे।  बैंग्लोर का बल्लेबाजी क्रम विराट और डिविलियर्स जैसे खिलाड़ियों से काफी मजबूत है, जबकि पार्थिव पटेल भी टीम के शीर्ष स्कोरर हैं, जिन्होंने 5 मैचों में 163 रन बनाए हैं, जिसमें  1 अर्द्धशतक भी शामिल है। हालांकि टीम की बल्लेबाजी इन्हीं खिलाड़ियों के इर्द-गिर्द घूमती है, वहीं गेंदबाजी में भी संतुलन की कमी दिखती है। स्पिनर यजुवेंद्र चहल टीम के स्टार  गेंदबाज हैं, जिन्होंने अब तक 9 विकेट लिए हैं, जबकि मोहम्मद सिराज 4 विकेट लेकर दूसरे सफल गेंदबाज हैं। पवन नेगी, मध्यम तेज गेंदबाज नवदीप सैनी, उमेश यादव और  अनुभवी मोईन अली ने भी काफी निराश किया है। इंग्लिश खिलाड़ी मोईन अब तक 5 मैचों में 1 विकेट ही ले सके हैं और कुल 42 रन बनाए हैं, जिनमें 18 रन उनकी बड़ी पारी रही  है। दिल्ली की स्थिति बैंग्लोर से बेहतर दिखती है, जिसने टूर्नामेंट की शुरुआत अच्छी की, लेकिन वह फिर पटरी से उतर गई है और पिछला मैच उसे घरेलू मैदान पर ही गंवाना पड़ा।  दिल्ली के पास पृथ्वी शॉ, शिखर धवन, श्रेयस अय्यर, ऋषभ पंत जैसे बढ़िया बल्लेबाज हैं, हालांकि दिल्ली के ही रहने वाले धवन के प्रदर्शन में निरंतरता की कमी दिखती है।  आईसीसी विश्व कप में टीम के अहम खिलाड़ी धवन 43 और 51 रनों की 2 उपयोगी पारियों के बाद पिछले 3 मैचों में  लॉप रहे हैं और केवल 16, 30 और 12 रन ही बना पाए हैं।

Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget