हिंदुत्ववादी दलों को लड़ाने में विपक्ष हुआ नाकाम : उद्धव ठाकरे

मुंबई
वर्ष 2019 लोकसभा चुनाव के लिए जहां सभी राजनीतिक पार्टियां चुनाव प्रचार में जुट गई है। वहीं केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार को दोबारा सत्ता में लाने के लिए भाजपा और शिवसेना  चुनाव प्रचार में कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती। मंगलवार को शिवसेना पक्ष प्रमुख उद्धव ठाकरे पालघर लोकसभा से शिवसेना उम्मीदवार राजेंद्र गावित का प्रचार करने वसई पहुंचे, जहां उन्होंने बिना नाम लिए बहुजन विकास आघाडी के संस्थापक और अध्यक्ष हितेंद्र ठाकुर पर जमकर हमला बोला। जनसभा को संबोधित करते हुए ठाकरे ने कहा कि आप लोग  किसी के गुलाम नहीं है और यहां के स्थानीय गुंडों से डरने की कोई जरूरत नहीं है। उद्धव ठाकरे ने कहा कि विरोधियों ने दो हिंदुत्ववादी पक्षों को आपस में लड़ाने और चुनाव में  उसका फायदा उठाने का प्रयास किया था, जिसमें वे असफल रहें। उद्धव ठाकरे ने कहा कि भाजपा और शिवसेना की युति से विपक्ष हताहत है और चुनाव में उनके पास कोई मुद्दा न  होने के कारण कुछ भी बयान दे रहे है। उन्हें जनता जरूर सबक सिखाएगी। मंगलवार से शिवसेना पक्ष प्रमुख उद्धव ठाकरे दो दिवसीय पालघर दौरे पर है। ठाकरे पालघर लोकसभा  सीट से शिवसेना उम्मीदवार राजेंद्र गावित के लिए चुनाव प्रचार में जनसभा को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान ठाकरे ने वसई किले पर जाकर नरवीर चिमाजी अप्पा का दर्शन कर  उन्हें माल्यार्पण किया। उन्होंने कहा कि इस चुनाव के पहले भाजपा और शिवसेना ने अलग-अलग चुनाव लड़ा था और चुनाव प्रचार के दौरान दोनों पार्टियों ने एक ही पार्टी को टारगेट किया था। अब जब दोनों पार्टियां मिलकर चुनाव लड़ रही हैं तो चुनाव के बाद की तस्वीर कुछ और होगी।
बता दें कि 2014 के लोकसभा चुनाव में पालघर लोकसभा सीट से युति के उम्मीदवार चिंतामण बनगा जीते थे। 2018 में बनगा का आकस्मिक निधन होने के बाद हुए उपचुनाव में  भाजपा और शिवसेना ने अलग-अलग चुनाव लड़ा, जिसमें शिवसेना ने चिंतामण बनगा के बेटे श्रीनिवास बनगा और भाजपा ने कांग्रेस छोड़कर पार्टी में शामिल पूर्व राज्य मंत्री राजेंद्र  गावित को उम्मीदवार बनाया था। पूरे चुनाव में दोनों पार्टियों के जोरदार आरोपप्रत्यारोप के बीज भाजपा के उम्मीदवार राजेंद्र गावित ने चुनाव जीता था। 2019 के लोकसभा चुनाव में  एक बार फिर भाजपा और शिवसेना मिलकर चुनाव लड़ रहे है और पालघर लोकसभा सीट से राजेंद्र गावित को दोबारा उम्मीदवार बनाया गया है। गावित इस बार भाजपा से नहीं,  बल्कि शिवसेना से चुनाव लड़ रहे है, जिनका सामना हितेंद्र ठाकुर की बहुजन विकास आघाडी के उम्मीदवार से होगा।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget