'कांग्रेस का 'हाथ’ विनाश के साथ’

भुवनेश्वर/रायपुर
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को ओडिशा के संबलपुर, छत्तीसगढ़ के कोरबा और भाटापारा में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कांग्रेस को जमकर निशाने पर लिया। मोदी ने  कहा कि कांग्रेस का हाथ टुकड़े-टुकड़े गैंग और दलालों के साथ है। मोदी ने भाटापारा में कहा, ''2014 में जो वोट मोदी के खाते में आए, उसी का परिणाम है कि देश आज तेज गति  से आगे बढ़ रहा है। अब आपका वोट देश और छत्तीसगढ़ को नई ऊंचाइयों पर ले जाएगा।
आज जो भाजपा की लहर है, उससे कांग्रेस बौखला गई है। वो अपमानित कर रहे हैं, कैसी-कैसी बातें कर रहे हैं। आज पाकिस्तान में घुसकर भारत सर्जिकल स्ट्राइक करता है। आज  का भारत आतंकवादियों को घर में घुसकर मारता है। आज भारत अंतरिक्ष में भी सेटेलाइट दाग सकता है। 3 मिनट में गिरा सकता है। ये किसने किया?’’
नरेंद्र मोदी ने आगे कहा, ''नामदार के परिवार में ज्यादातर लोग जमानत पर हैं। नामदारों पर करोड़ों रुपए की टैक्स चोरी का केस चल रहा है। हेलिकॉप्टर का घोटाला तो अभी कुछ  साल पुराना ही है। इसके राजदार को विदेश से पकड़कर लाया गया है और वह जेल में बंद है। अब ये मामा नए-नए राज उगल रहे हैं। एक ओर मामा की जुबान चल रही है, दूसरी  ओर भांजे और मैडम जी की धुकधुकी चल रही है।’’
इससे पहले मोदी ने छत्तीसगढ़ के कोरबा पहुंचकर नक्सली हमले में मारे गए भाजपा विधायक भीमा मंडावी और शहीद हुए चार जवानों को श्रद्धांजलि दी। नक्सलियों को क्रांतिकारी  कहने का दौर चल पड़ा था। वो (कांग्रेस) नक्सलियों को क्रांतिकारी कहते हैं। छत्तीसगढ़ में कैसी राजनीति हो रही है। गांव-गांव विकास पहुंचे, हम इसमें लगे हैं। वहीं, दूसरी ओर हिंसा  को बढ़ाने की साजिश चल रही है। कांग्रेस का घोषणा पत्र नहीं, ढकोसला पत्र है। उसमें से इसकी बू आ रही है। कांग्रेस का कहना है कि दिल्ली में उनकी सरकार बनी, तो राष्ट्रद्रोह का  कानून खत्म कर देगी। इसका मतलब जो अपनी राजनीति के लिए यहां के बच्चों, युवाओं को भड़काते हैं। उस पर राजनीति करते हैं। इसके चलते उन्हें खुली छूट मिल जाएगी। फिर  वैसी कार्रवाई नहीं हो पाएगी, जैसी होनी चाहिए। क्या राष्ट्रद्रोह का कानून हटना चाहिए? कांग्रेस का हाथ विकास नहीं विनाश के साथ है। छत्तीसगढ़ को लैंडमाइन चाहिए या फिर  पानी की लाइन चाहिए। सिर्फ नक्सलियों के साथ ही नहीं, देश के टुकड़े -टुकड़े करने वालों के साथ भी कांग्रेस का हाथ है।’’ उनकी प्राथमिकता सिर्फ मलाई खाने की रही : इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी ने ओडिशा में संबलपुर की चुनावी सभा में कांग्रेस को आड़े हाथों लिया। उन्होंने कहा था कि जिनकी प्राथमिकता सिर्फ मलाई खाने की रही हो, उनको आपकी चिंता  कैसे होगी?

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget