राज्यभर में उत्साह से मनाया गया गुढी पाडवा

मुंबई
मुंबई सहित राज्यभर में गुढी पाडवा का पर्व उत्साह के साथ मनाया गया। इस दौरान हिंदू नववर्ष का स्वागत करने के लिए गिरगांव और डोंबिवली में शोभायात्रा निकाली गई।  चित्ररथ, खेल, बाईक रैली और लोक कलाओं ने शोभायात्रा में विभिन्न रंग भर दिए। राज्य के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस ने अपने सरकारी आवास वर्षा बंगले पर गुढी पाडवा उत्सव  मनाया। वर्षा बंगले पर गुढी बनाकर नववर्ष का स्वागत किया गया।
मुंबई में गुढी पाडवा का उत्साह देखने को मिला। ढोल-ताशे, लेझिम की ताल पर हिंदू युवक नववर्ष के स्वागत के लिए तैयार थे। गुढी लगाकर और जगह-जगह रंगोली बनाकर  शोभायात्रा का स्वागत किया गया। बच्चों से लेकर बड़े पूरे उत्साह के साथ शोभायात्रा में शामिल हुए। गिरगांव में गुढी पाडवा के मौके पर हर साल हिंदू नववर्ष का स्वागत करने के  लिए यात्रा निकाली जाती है। इस वर्ष भी शोभायात्रा में अनेक महिलाएं बुलेट की सवारी करती हुई दिखाई दी। इसके अलावा शहीद जवानों को श्रद्धांजलि देने के लिए देशभक्ति के अनेकों संदेश लेकर कई लोग शोभायात्रा में शामिल हुए। पारंपरिक पोशाक में महिला, युवा शोभायात्रा में शामिल हुए। सुबह से गिरगांव, डोंबिवली, नाशिक, ठाणे में हिंदू नववर्ष पर  शोभायात्रा में महिलाओं ने बड़ी संख्या में भाग लिया। युवा ढोल-ताशे, लेझिम की ताल पर थिरकते नजर आए। डोंबिवली में शोभायात्रा का विशेष महत्व है। डोंबिवली में भागशाला  मैदान से शोभायात्रा शुरू हुई। फडके रोड पर बड़ी संख्या में लोग शोभायात्रा में शामिल हुए। चित्ररथ के माध्यम से सामाजिक संदेश देने की कोशिश की गई। इस बार शोभायात्रा में  लोकसभा चुनाव की झलक भी देखने को मिली। कई लोग मतदान को लेकर जनजागृति के संदेश लिए भी दिखाई दिए। दादर, गिरगांव और ठाणे में विभिन्न स्थानों पर निकाली गई शोभायात्रा में परंपरा और आधुनिकता का मेलजोल देखने को मिला। चैत्र माह की शुक्ल प्रतिपदा को गुढी पाडवा मनाई जाती है।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget