कांग्रेस के घोषनापत्र से गरीबी पर वार नही वाड्रा मालदार : विनोद तावडे

मुंबई
वर्ष 2019 लोकसभा चुनाव के लिए घोषणापत्र जारी करने वाली कांग्रेस पार्टी पर राज्य के शिक्षा मंत्री विनोद तावड़े ने जमकर हमला बोला और कांग्रेस पार्टी के घोषणा पत्र को गरीबी  पर वार नहीं, वाड्रा मालदार बताया।
मंगलवार को भाजपा प्रदेश कार्यालय में पत्रकार परिषद के दौरान तावड़े ने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने अपने चुनाव घोषणापत्र में गरीब परिवारों को प्रतिवर्ष 72 हजार करोड़ रुपए खाते  में जमा करने का वादा किया है। घोषणापत्र का नाम हम निभाएंगे पर सवाल उठाते हुए तावड़े ने कहा कि मैं कांग्रेस पार्टी और उनके अध्यक्ष से पूछना चाहता हूं कि हम निभाएंगे  मतलब कौन निभाएगा, बसपा प्रमुख मायावती, आंध्र प्रदेश के सीएम चंद्रबाबू नायडू या फिर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी? क्योंकि विपक्ष के पास प्रधानमंत्री के दावेदार  कई है। बात रही एनडीए की तो हमारे पास प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हैं।

'पवार के भाई और भतीजे के साथ कैसे रिश्ते हैं यह जगजाहिर है’

वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोलने वाली राकांपा की नेता और सांसद सुप्रिया सुले को जवाब देते हुए तावड़े ने कहा कि पीएम मोदी पर परिवार को लेकर हमला बोलने वाली  सुप्रिया सुले को शायद जानकारी नहीं है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कई भाई और कई भतीजे हैं, लेकिन वो राजनीति में नहीं हैं। परिवार का एक व्यक्ति राजनीति में होने से उन  लोगों ने राजनीति में नहीं आने का फैसला लिया है। सुप्रिया सुले को राकांपा प्रमुख शरद पवार से पूछना चाहिए कि उनके भाई और भतीजे से उनके कैसे रिश्ते है और पवार को  लेकर क्या सोचते है, यह बात किसी को बताने की जरूरत नहीं हैं।

किरीट सोमैया की उम्मीदवारी को लेकर शिवसेना का नहीं, बल्कि शिवसैनिकों का विरोध

उत्तर-पूर्व मुंबई लोकसभा सीट पर भाजपा नेता किरीट सौमैया के उम्मीदवारी पर शिवसेना पार्टी नहीं, बल्कि कुछ शिवसैनिकों का विरोध है, जिन्हे जल्द मना लिया जाएगा। मंगलवार  को भाजपा प्रदेश कार्यालय में पत्रकार परिषद के दौरान राज्य के शिक्षा मंत्री विनोद तावड़े ने यह बात कही। तावड़े ने कहा कि उत्तर-पूर्व मुंबई लोकसभा सीट के लिए भाजपा के पास  कई उम्मीदवार है, जिसमें से किसे उम्मीदवार बनाया जाएगा है, इसकी जल्द घोषणा की जाएगी। तावड़े ने कहा कि उत्तर-पूर्व मुंबई संसदीय क्षेत्र में भाजपा ने प्रचार शुरू कर दिया  है। बात रही उम्मीदवार घोषित करने की तो इस पर भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, शिवसेना पक्ष प्रमुख उद्धव ठाकरे और मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस मिलकर जल्द निर्णय  लेंगे। बता दें कि उत्तर-पूर्व मुंबई लोकसभा सीट पर जहां कांग्रेस और राकांपा ने संजय पाटिल को उम्मीदवार घोषित कर दिया है, वहीं सत्ताधारी भाजपा और शिवसेना ने अभी तक   अपना उम्मीदवार घोषित नहीं किया है। क्योंकि भाजपा मौजूदा सांसद किरीट सौमैया को उम्मीदवार बनाना चाहती है, जिसका शिवसेना विरोध कर रही है। मुंबई के लिए नामांकन की  अंतिम तारीख 2 अप्रैल से 9 अप्रैल तक है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार उत्तर-पूर्व मुंबई लोकसभा सीट के लिए किरीट सौमैया को लेकर भाजपा की शिवसेना से अगर बात नहीं बन पाई, तो भाजपा नगरसेवक मनोज कोटक को मैदान में उतार सकती है।

Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget