मुस्लिमों से वोट मांग घिरीं माया, ED ने मांगी रिपोर्ट

देवबंद
सहारनपुर के देवबंद में सपा-बसपा और आरएलडी की पहली संयुक्त रैली विवादों में घिर गई है। रैली में बसपा प्रमुख मायावती भाजपा और पीएम मोदी पर आक्रामक रहीं, लेकिन  उनका भाषण विवाद का विषय बन गया है। दरअसल, रैली में उन्होंने सीधे मुसलमानों को संबोधित करते हुए वोट की अपील की। उन्होंने कहा कि मुस्लिम समुदाय कांग्रेस के झांसे  में न आए और भाजपा को हराने के लिए गठबंधन के उम्मीदवारों को वोट दें। इसके बाद उत्तर प्रदेश के चीफ इलेक्टोरल ऑफिसर ने इसका संज्ञान लेते हुए स्थानीय प्रशासन से  रिपोर्ट मांगी है। मायावती ने अपने भाषण में कहा कि मैं खासतौर पर मुस्लिम समाज के लोगों से यह कहना चाहती हूं कि आपको भावनाओं में बहकर, रिश्ते-नातेदारों की बातों में  आकर वोट बांटना नहीं है, बल्कि एकतरफा वोट गठबंधन को ही देना है। आपको बता दें कि चुनाव आयोग ने लोकसभा चुनाव में सभी राजनीतिक दलों और नेताओं से प्रचार  अभियान के दौरान जाति, धर्म, भाषा और क्षेत्र आदि के नाम पर ऐसी भावनात्मक अपील करने से बचने को कहा है, जिससे समाज में भेदभाव और तनाव फैलता हो। आयोग ने  चुनाव प्रचार अभियान के जोर पकड़ने के मद्देनजर शुक्रवार को सभी दलों को जारी एडवाइजरी में भी कहा था कि नेता प्रचार में विरोधियों के निजी जीवन और सार्वजनिक  कार्यकलापों से इतर कामों पर भी टिप्पणी करने से बचें। मायावती ने रैली में मुस्लिमों से खास अपील करते हुए कह दिया कि कांग्रेस को वोट न देकर सिर्फ गठबंधन को वोट दें,  तभी भाजपा को सत्ता से बाहर किया जा सकता है।

'कांग्रेस भाजपा को टक्कर देने के लायक नहीं’

उन्होंने कहा कि पश्चिमी यूपी में और खासकर सहारनपुर, मेरठ, मुरादाबाद और बरेली मंडल में मुस्लिम समाज की आबादी काफी ज्यादा है। मेरा खासकर इस चुनाव में मुस्लिम  समाज के लोगों को कहना है और मैं सावधान करना चाहती हूं। आपको मालूम है कि यूपी में कांग्रेस इस लायक नहीं है कि भाजपा को टक्कर दे सके। गठबंधन ही इस लायक है। माया का कांग्रेस पर सीधा अटैक मायावती ने कांग्रेस को भी आड़े हाथों लेते हुए कहा कि पार्टी ने जान-बूझकर विशेष धर्म के लोगों को टिकट दिया है। मायावती ने कहा कि इस बात  का अहसास कांग्रेस को भी है। कांग्रेस मानकर चल रही है, हम जीतें या न जीतें, लेकिन गठबंधन नहीं जीतना चाहिए इसलिए कांग्रेस ने ऐसी जाति और ऐसे धर्मों के लोगों को खड़ा  किया है, जिससे भाजपा को फायदा पहुंचे इसलिए मैं मुस्लिम समुदाय से कहना चाहती हूं, मुसलमानों को यह पता है कि हमारा मुस्लिम समाज का जो कैंडिडेट है।

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget