देश मे दो PM चाहती है कांग्रेस

नांदेड़ (महाराष्ट्र)
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने महाराष्ट्र के नांदेड़ में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी देश में दो प्रधानमंत्री चाहती है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस भारत को कहां ले  जाना चाहती है यह भी देश के सामने आ गया है। कांग्रेस और उसके साथी भारत में दो प्रधानमंत्री चाहते हैं। एक दिल्ली में और दूसरा जम्मू-कश्मीर में। कांग्रेस के महागठबंधन के  साथी और जम्मू- कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अŽदुल्ला और उनके पिता फारूक अŽदुल्ला खुलेआम कह रहे हैं कि देश में दो प्रधानमंत्री होने हैं। €या आपको यह मंजूर है? कांग्रेस  जम्मू- कश्मीर से अफस्सा का कानून हटाएगी ताकि आतंकियों के सामने हमारे जवान लाचार हो जाएं, वे झूठे केसों में उलझ जाएं। पीएम मोदी ने कांग्रेस और अन्य विपक्षी दलों पर  निशाना साधते हुए कहा, ''कांग्रेस पाकिस्तान से पैसे लेकर देश में अलगाव पैदा करने वालों से बातचीत करना चाहती है। €या ऐसी बातचीत आपको मंजूर है? कांग्रेस भारत के टुकड़े- टुकड़े चाहने वालों को देशद्रोह का कानून हटाकर खुला लाइसेंस देना चाहती है। कांग्रेस ने जो यह ढकोसला पत्र बनाया है, उसकी नींव तो उसी दिन पड़ गई थी, जब सर्जिकल स्ट्राइक  को लेकर इन्होंने वीर जवानों पर सवाल उठाए थे। जब एयर स्ट्राइक पर सबूत मांगे। जब 21 पार्टियों के महामिलावट ने मोदी के खिलाफ निंदा प्रस्ताव पारित किया।

नामदारों ने मामा को भगा दिया था

पीएम ने कहा कि देश के जो हालात हैं चाहे आतंकवाद हो या नक्सलवाद, यह आग कांग्रेस की लगाई हुई है। एनडीए की सरकार आग को बुझाने में लगी हुई है। साथियों, आतंकवाद  ही नहीं, देश में भ्रष्टाचार को बढ़ाने वाली और उसे पालने पोसने वाली भी कांग्रेस ही रही है। इनको दलाली खासी पसंद है। जितना बड़ा सौदा, उतनी ज्यादा मलाई। बोफोर्स से  हेलिकॉप्टर की दलाली तक इन्होंने खूब झंडे गाड़े हैं। इटली के जिस मिशेल मामा को नामदारों ने भगा दिया था, उनको उठाकर लाया गया है। कोर्ट में मिशेल ने साफ-साफ बताया कि  हेलिकॉप्टर की दलाली किसने खाई । एक परिवार, कई राजदार और एक मामा इसमें शामिल थे। आज वे कठघरे में खड़े हैं। 2019 में आपका वोट इन्हें वहां पहुंचाएगा जहां आप  इन्हें देखना चाहते हैं।

नामदार ने माइक्रोस्कोप लेकर ढूंढ़ी सीट

कांग्रेस के कारनामे पीढ़ी दर पीढ़ी एक जैसे ही रहे हैं। भ्रष्टाचार ही कांग्रेस का मूलमंत्र रहा है। अपने कारनामों के चलते कांग्रेस पिछली बार 44 सीटों पर पहुंची और इस बार संकट  और भी गंभीर है। पांच वर्ष बाद भी जनता में विपक्ष के प्रति, शरद पवार की पार्टी के प्रति गुस्सा जरा भी कम नहीं हो रहा है। इस गुस्से ने कांग्रेस में अफरा तफरी मचा दी है।  इसके चलते कांग्रेस के नामदार ने माइक्रोस्कोप लेकर एक ऐसी सीट खोजी है, जहां वह मुकाबला कर सकें। जहां देश की मेजॉरिटी माइनॉरिटी में है। जहां विरोधी ने कह दिया कि  आपके विरोध में नहीं कहूंगा। अमेठी के लोग अपना यह अपमान याद रखें।

टाइटेनिक की तरह डूब रही कांग्रेस

प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेस की हालत टाइटेनिक जहाज की तरह है। हर दिन यह डूब रही है। कांग्रेस के साथ जो-जो इस जहाज में बैठा था वो एनसीपी की तरह या तो डूब रहा है  या तो जान बचाने के लिए भाग रहा है। शरद पवार इस बार चुनाव नहीं लड़ रहे हैं। प्रफुल्ल पटेल भी चुनाव से भाग चुके हैं। ये सब एक-एक करके मैदान छोड़ रहे हैं। महाराष्ट्र में  कांग्रेस इतनी कमजोर हो गई है कि जितने विधायक हैं उससे ज्यादा तो गुट बने हुए हैं। €या ये दल महाराष्ट्र का भला कर पाएंगे? वे अपने विकास का सोचेंगे या महाराष्ट्र के विकास  का?

गजनी बन जाती है कांग्रेस

मोदी ने कहा, ''कांग्रेस से सतर्क रहिए। जब भी यह पार्टी संकट में आती है तब झूठ का पिटारा खोल देती है और बाद में गजनी बन जाती है। इन्होंने आरक्षण की बात की और फिर  गजनी हो गए। सामान्य वर्ग के गरीबों को आरक्षण देने का काम भाजपा ने किया। देश का माहौल भी नहीं बिगड़ा और इतना बड़ा फैसला लिया गया। ओबीसी कमीशन को  संवैधानिक दर्जा देने का काम कांग्रेस नहीं कर पाई, लेकिन आपकी चौकीदार सरकार ने ऐसा कर दिखाया।’’

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget