जेट एयरवेज को मिला 14 हजार करोड़ रुपए का ऑफर

मुंबई
आर्थिक तंगी की वजह से बंद पड़ी जेट एयरवेज को खरीदने के लिए डार्विन ग्रुप ने 14 हजार करोड़ रुपए का ऑफर स्टेट बैंक को दिया है। डार्विन ग्रुप के उच्च अधिकारियों ने कल  स्टेट बैंक के अधिकारियों से इस बाबत मुलाकात की। डार्विन ग्रुप के सीईओ राहुल गनपुले के अनुसार 14 हजार करोड़ रुपए में जेट की सभी देनदारियों का निपटारा करने की पेशकश  की गई है। यह वन टाइम सेटलमेंट होगा और इसके बाद जेट एयरवेज की सभी पुरानी देनदारियां समाप्त हो जाएंगी। उन्होंने आगे कहा कि कंपनी इस अधिग्रहण के लिए पूरी राशि  का इंतजाम आंतरिक स्रोतों से करेगी। सूत्रों के अनुसार एसबीआई ने डार्विन से पूंजी के सोर्स का विवरण मांगा है। यही नहीं कंपनी इस अधिग्रहण में साथ आने के लिए एतिहाद  एयरवेज से भी बात कर रही है। जेट एयरवेज के लिए शुरुआती बोली मिलने के बाद प्राइवेट इक्विटी कंपनियों इंडिगो पार्टनर्स और टीपीजी, एतिहाद एयरवेज और सॉवरेन फंड  एनआईआईएफ जैसी कंपनियों को भी शॉर्टलिस्ट किया गया था।
बता दें कि डार्विन ने ऑयल एंड गैस, आतिथ्य और रियैल्टी सहित कई क्षेत्रों में भी निवेश किया है। गौरतलब है कि जेट की सेवा 17 अप्रैल से ही बंद पड़ी है। इसके परिणामस्वरूप  जेट के लगभग 22 हजार कर्मचारी सड़क पर आ गये हैं। पिछले 3 महीने से जेट के कर्मचारियों को उनका वेतन नहीं मिला है। कर्मचारी आये दिन दिल्ली और मुंबई में हड़ताल करते   नजर आते हैं। जेट के सीईओ और डिप्टी सीईओ सहित चार अधिकारियों द्वारा इस्तीफा देने के बाद जेट के शेयर्स में पांच फीसदी तक गिरावट आई।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget