'मोदी को दी गईं गालियां हमारे लिए 56 भोग'

नई दिल्ली
केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को 56 से ज्यादा गालियां दी गईं। गडकरी ने कहा कि प्रधानमंत्री किसी एक पार्टी का नहीं,  बल्कि पूरे देश का होता है, लेकिन राजनीति में कांग्रेस इतने नीचे स्तर पर आ गई कि गालियां देना शुरू कर दिया। गडकरी ने कहा कि पीएम मोदी को दी गई कांग्रेस की यह 56  गालियां हमारे लिए छप्पन भोग हैं। गुरुवार को गडकरी ने कहा कि जो 1984 के दंगा पीड़ितों को न्याय नहीं दे पाए, वो क्या देश के गरीबों को न्याय देंगे।

गडकरी की प्रमुख बातें

  • दुर्भाग्यवश प्रधानमंत्री के मान-सम्मान की बजाय विपक्ष और खास तौर से कांग्रेस द्वारा उन पर अभद्र टिप्पणियां की गईं, जिसमें राहुल जी को तो सुप्रीम कोर्ट में अपने बयान के  बारे  में जिन परिस्थितियों का सामना करना पड़ा वो सबको पता है।
  • कांग्रेस ने परफॉर्मेंस और कार्य चुनाव का मुद्दा न बने, इसके लिए विपक्ष दो बातों पर चुनाव को लेकर गया-पहला दलितों, माइनोरिटी, एससी-एसटी के मन में डर पैदा करना और  दूसरा विकास के जो काम 50 साल में नहीं हुए और 5 साल में हुए, उस पर चर्चा न करके जानबूझकर गंदी-गंदी टिप्पणियां की गईं।
  • 1971 के युद्ध के दौरान अटल जी के नेतृत्व में सभी विपक्षी दलों ने तब की प्रधानमंत्री इंदिरा जी का समर्थन किया था और कहा कि देश की सुरक्षा में हम साथ हैं, लेकिन इस बार  सुरक्षा के विषयों का भी राजनीतिकरण किया गया। राजनीति में मतभिन्नता हो सकती है, लेकिन मनभेद और दुष्प्रचार नहीं होना चाहिए।
  • कांग्रेस की पीढ़ियां गरीबी हटाओ की बात करती रहीं, लेकिन गरीबी हटी नहीं। अब राहुल जी भी वही बात कह रहे हैं, तो इनकी विश्वसनीयता कहां हैं? ये न्याय नहीं है, आज तक हुए अन्याय की बात है।

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget