अस्थमा है तो खाने की इन चीजों से करें तौबा

अस्थमा ऐसी बीमारी है, जिसका इलाज लंबे समय तक या फिर जिंदगीभर तक चल सकता है। ऐसे में कई चीजों का ध्यान रखना होता है। खासतौर से डायट का, क्योंकि इसका  शरीर पर सबसे ज्यादा असर होता है। अस्थमा के मरीजों के लिए खाने की कुछ चीजें ऐसी होती हैं, जो उनकी परेशानी बढ़ा सकती हैं ऐसे में इनसे दूरी बनाए रखना ही बेहतर होता  है। हम बता रहे हैं ऐसी ही कुछ चीजों के बारे में।

ये चीजें करती हैं अलर्जिक रिएक्शन को ट्रिगर
अस्थमा के मरीजों को अंडा, गाय का दूध, मूंगफली, सोया, गेहूं, मछली, झींगा, ट्री नट्स को खाने से बचना चाहिए। इनके सेवन से उनके शरीर में अलर्जिक रिएक्शन ट्रिगर हो सकता  है, जो अस्थमा अटैक का कारण बनेगा। ऐसी स्थिति में यह भी संभव है कि सही समय पर अटैक कंट्रोल न हो तो अस्पताल ले जाने तक की नौबत आ सकती है।

इनका भी न करें सेवन
ऊपर बताई गई चीजों के अलावा अस्थमा के मरीज में फूड प्रिजरवेटिव्ज भी अलर्जिक रिएक्शन ट्रिगर कर सकते हैं। सोडियम बाइसल्फाइट, पोटैशियम बाइसल्फाइट, सोडियम  मेटाबाइसल्फाइट, पोटैशियम मेटाबाइसल्फाइट, सोडियम सल्फाइट जैसी चीजें जो प्रिजरवेटिव में डाली जाती हैं वे अस्थमा के मरीजों के लिए अच्छी नहीं होतीं।
इस कॉम्बिनेशन के प्रिजरवेटिव को ड्राइड फ्रूट्स, सब्जी, आलू (पैक्ड), वाइन, बीयर, बोटल्ड लाइम जूस, फ्रोजन फिश फूड और अचार में इस्तेमाल किया जाता है ताकि उनकी शेल्फ  लाइफ बढ़ाई जा सके, लेकिन इनका सेवन अस्थमा के मरीज को खतरे में डाल सकता है।

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget