देश की पहली एसी लोकल ने बनाया आय का कीर्तीमान

मुंबई
विश्व की पहली लेडीज स्पेशल ट्रेन चलाने सहित अनेक क्षेत्रों में हमेशा अग्रणी रहने वाली पश्चिम रेलवे द्वारा चलाई गई देश की पहली एसी लोकल ट्रेन ने अप्रैल, 2019 में 1.84  करोड़ रुपए की आय के फलस्वरूप किसी एक माह में सर्वाधिक आमदनी का एक नया कीर्तिमान स्थापित कर एक प्रतिष्ठित उपलब्धि हासिल की है। यह आमदनी 25 दिसम्बर, 2017 को एसी लोकल ट्रेन शुरू होने से 30 अप्रैल, 2019 तक लगभग 16 महीनों के दौरान किसी एक महीने में अर्जित सबसे अधिक आमदनी है। पश्चिम रेलवे के मुक्य जनसम्पर्क  अधिकारी रविंद्र भाकर द्वारा जारी एक प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार अप्रैल 2019 माह में इस वातानुकूलित ट्रेन के परिचालन से 1.84 करोड़ रुपए की सर्वाधिक आय हुई है। इस महीने  में लगभग 4.47 लाख यात्रियों ने इस ट्रेन से यात्रा की। इसके पश्चात अक्टूबर, 2018 माह 1.82 करोड़ एवं मई, 2018 माह 1.68 करोड़ रुपए की आय के साथ क्रमश: दूसरे एवं  तीसरे क्रमांक पर रहा। एसी लोकल 25 दिसम्बर, 2017 को शुरू हुई थी जिससे 30 अप्रैल, 2019 तक कुल 24 करोड़ रुपए की आय प्राप्त हो चुकी है।
मुंबई की उमस भरी गर्मी में एसी ट्रेन सेवाएं यात्रियों के लिए काफी राहत का माध्यम है, इसलिए यह सेवाएं मुंबईकरों में काफी लोकप्रिय हैं। उल्लेखनीय है कि 25 दिसम्बर, 2017  को एसी लोकल सेवाओं की शुरुआत के समय यह निर्णय लिया गया था कि पहले 6 महीने इंट्रोडक्टरी ऑफर के तहत एसी ईएमयू ट्रेन का किराया प्रथम श्रेणी के किराये का 1.2 गुना रहेगा तथा इसके बाद यह 1.3 गुना के आधार पर गिना जायेगा। लेकिन यह ऑफर जो पहले भी बढ़ाया गया था, 24 अप्रैल, 2019 तक वैध था और अब इस उसे फिर 31 मई, 2019 तक बढ़ाया गया है। अत: एसी ईएमयू ट्रेन की किराया सूची फिलहाल इसी आधार पर जारी रहेगी। वर्ष 2018-19 के दौरान एक साल में भारत की पहली एसी ट्रेन के  परिचालन से कुल 19 करोड रुपए की आय हुई है और इसे यात्रियों का लगातार बेहतर प्रतिसाद मिल रहा है। वर्तमान में पश्चिम रेलवे के चर्चगेट से विरार के बीच सोमवार से  शुक्रवार तक एसी ईएमयू की 12 सेवाएं परिचालित की जाती हैं।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget