भाई वीरेंद्र ने उठाई तेजप्रताप पर कारवाई की मांग

लोकसभा चुनाव में हार के बाद जहां आरजेडी में समीक्षा और मंथन का दौर चल रहा है वहीं पार्टी के भीतर रार अभी थमी नहीं है। वरिष्ठ नेता रघुवंश प्रसाद सिंह के बाद अब पार्टी  के विधायक भाई वीरेंद्र ने भी माना है कि तेजस्वी यादव और तेजप्रताप के बीच के विवाद के कारण पार्टी को भारी नुकसान हुआ है। भाई वीरेंद्र ने बिना नाम लेते हुए तेजप्रताप पर  पर कार्रवाई की मांग की है और पार्टी को नुकसान पहुंचाने वालों को बाहर का रास्ता दिखाने की बात कही है। आरजेडी विधायक ने कहा कि चाहे वो कोई भी हो जिन्होंने पार्टी विरोधी  काम किया है, उन्हें जल्द पार्टी से बाहर का रास्ता दिखाया जाएगा। पाटलिपुत्र संसदीय क्षेत्र के तहत आने वाले मनेर विधानसभा से एमएलए भाई वीरेंद्र ने यह भी दावा किया कि  आज आरजेडी विधानमंडल बैठक के बाद पार्टी की अनुशासन समिति की रिपोर्ट पर वैसे लोगों के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी, जिन लोगों ने पार्टी के विरुद्ध काम किया है। उन्होंने कहा  कि आरजेडी किसी एक की पार्टी नहीं, यह आम आवाम की पार्टी है। राष्ट्रीय जनता दल को सभी लोगों ने सींचने में योगदान किया है। हालांकि उन्होंने यह माना कि कई विधायक  पार्टी की कार्यशैली को लेकर नाराज हैं। हलांकि उन्होंने उम्मीद जताई है कि जल्दी ही पार्टी वैसे तमाम विधायकों की नाराजगी दूर करेगी। बता दें कि ऐसी चर्चा थी कि तेजस्वी यादव  और लालू यादव चाहते थे कि भाई वीरेंद्र पाटलिपुत्र संसदीय सीट से चुनाव लड़ें, लेकिन तेजप्रताप यादव ने पहले ही मीसा भारती के नाम की घोषणा कर दी थी। इसके बाद से ही  भाई वीरेंद्र और तेजप्रताप यादव में दूरी बढ़ गई। कई बार ऐसे बयान भी आए कि लगा भाई वीरेंद्र विद्रोह कर देंगे, लेकिन तेजस्वी के करीबी माने जाने वाले भाई वीरेंद्र अब तक आरजेडी में ही बने हुए हैं।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget