विधायक भावना झा का बड़ा आरोप

किशनगंज
बिहार में लोकसभा चुनाव में मिली करारी हार के बाद महागठबंधन में आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया है। महागठबंधन को बिहार में 40 में से केवल एक सीट पर जीत मिली  है। किशनगंज में कांग्रेस ने जीत दर्ज की। अब कांग्रेस नेता आरजेडी के सीट बंटवारे के रवैए को करारी हार के जिम्मेदार ठहरा रहे हैं। महागठबंधन की करारी हार पर मधबुनी के  बेनीपट्टी से कांग्रेस की विधायक भावना झा ने तीखी प्रतिक्रिया दी है। पार्टी से निलंबित भावना झा ने कहा कि मधुबनी सीट मुकेश सहनी की अगुवाई वाली विकासशील इंसान पार्टी  (वीआईपी) को देना खराब निर्णय था। वह भी उस तरह के उम्मीदवार को देना जो टिकट खरीद कर लाया था। बताते चलें कि मधुबनी लोकसभा क्षेत्र में भाजपा उम्मीदवार अशोक  कुमार यादव ने विकासशील इंसान पार्टी के उम्मीदवार बद्री कुमार पूर्वे को 454940 मतों से पराजित किया। यहां से पूर्व केंद्रीय मंत्री और निर्दलीय उम्मीदवार डॉ. शकील अहमद तीसरे  स्थान पर रहे। वहीं, दरभंगा सीट से हार मिलने के बाद आरजेडी की राज्य इकाई के प्रमुख अब्दुल बारी सिद्दीकी ने बड़ा बयान दिया है। सिद्दीकी ने अपने ही गठबंधन पर सवाल उठाते हुए कहा कि हमारे गठबंधन में एक-दूसरे पर यकीन नहीं था। आरजेडी सरकार में मंत्री रह चुके सिद्दीकी ने कहा कि बहुत कम समय में बने हमारे गठबंधन पर लोगों को  एतबार नहीं था। एनडीए का गठबंधन बहुत पहले से था और हम लोगों से मजबूत था। यही नहीं एनडीए के गठबंधन में एक-दूसरे पर आत्मविश्वास और पूरा भरोसा भी था जिसके कारण जनता ने भी उन पर भरोसा जताया।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget