नए मंत्रियों पर घंटों चली मोदी-शाह की बैठक

नई दिल्ली
भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने बुधवार को भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से लंबी मुलाकात की। आज नई सरकार शपथ ग्रहण करने वाली है। फिलहाल यह पता नहीं चल पाया है कि दोनों  नेताओं के बीच में क्या बातचीत हुई, लेकिन संभवत: दोनों ने कैबिनेट बनाने को लेकर लंबी बातचीत की है। अमित शाह ने मंगलवार को भी प्रधानमंत्री के साथ बैठक की थी।
भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बीच 7 लोककल्याण मार्ग पर लगभग 4 घंटे तक बैठक चली। दिन में 2 बजे अमित शाह प्रधानमंत्री के आवास पर बैठक  के लिए गए थे और यह बैठक 6 बजे शाम में संपन्न हुई। फिलहाल सबकी निगाहें अब कैबिनेट पर हैं, क्योंकि कई नाम हवा में तैर रहे हैं। भाजपा सूत्रों की मानें तो वरिष्ठ पार्टी  नेता राजनाथ सिंह, नितिन गडकरी, पीयूष गोयल, रविशंकर प्रसाद, प्रकाश जावड़ेकर, सुरेश प्रभु, निर्मला सीतारमण, स्मृति ईरानी, मेनका गांधी और जेपी नड्डा को फिर से कैबिनेट  में रखा जा सकता है। अकाली दल बादल की हरसिमरत कौर बादल और एलजेपी के रामविलास पासवान भी मोदी मंत्रिमंडल में शामिल किए जा सकते हैं।
इससे पहले बिहार के मुख्यमंत्री और जेडीयू के अध्यक्ष नीतीश कुमार ने बुधवार को दिल्ली में अमित शाह से मुलाकात की। जेडीयू के एक नेता ने बताया कि नीतीश ने सुबह शाह से  मुलाकात की और मोदी सरकार में मंत्री पद को लेकर चर्चा की। लोकसभा 2019 के चुनाव में बिहार की 40 लोकसभा सीटों में से भाजपा और जेडीयू ने 17-17 सीटों पर चुनाव लड़े थे, जबकि एलजेपी ने छह सीटों पर अपने प्रत्याशी उतारे थे। इसमें भाजपा ने सभी 17 सीटों पर जीत दर्ज की, जबकि जेडीयू ने 17 में से 16 सीटों पर जीत दर्ज की है। एलजेपी ने  भी सभी छह सीटों पर जीत का परचम लहराया।
सूत्रों ने कहा कि कई नए चेहरे सरकार में जूनियर मंत्रियों के रूप में शामिल किए जा सकते हैं, जबकि कुछ पूर्व राज्यमंत्रियों को कैबिनेट में बरकरार रखा जा सकता है। गौरतलब है  कि भाजपा के नवनिर्वाचित 303 सदस्यों में से पार्टी अध्यक्ष अमित शाह को मिलाकर 131 सदस्य ऐसे हैं, जो पहली बार लोकसभा चुनाव जीत कर सांसद बने हैं। इस सूची में पूर्व  केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद के साथ-साथ फिल्म जगत से लेकर खेल जगत तक के सितारे शामिल हैं। इनमें सनी देओल, रवि किशन, गौतम गंभीर और हंस राज हंस शामिल हैं।  प्रताप सिंह सारंगी (बालासोर), तेजस्वी सूर्या (दक्षिण बैंग्लोर), राजदीप रॉय, ज्योतिर्मय सिंह महतो (पुरुलिया) आदि सूची में कई ऐसे हैं, जो साधारण पृष्ठभूमि से उभरे हैं और उन्होंने  चुनाव में अप्रत्याशित जीत हासिल की है।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget