पी एम का ऐतिहासिक शपथग्रहण समारोह आज

नई दिल्ली
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके मंत्रिमंडल का शपथ ग्रहण समारोह आज राष्ट्रपति भवन में शाम सात बजे संपन्न होगा। शपथ ग्रहण के लिए तैयारियां पूरी हो चुकी है। पिछली बार  की तरह इस बार भी अतिथियों की बड़ी संख्या को देखते हुए राष्ट्रपति भवन में तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा चुका है। इस समारोह में छह हजार मेहमान शरीक होंगे। पिछली  बार की तरह शपथ ग्रहण समारोह फोरकोर्ट में ही हो रहा है। फोरकोर्ट में 5 हजार लोगों के बैठने की व्यवस्था होती है, लेकिन अतिथियों की लंबी सूची को देखते हुए पांच हजार से  ज्यादा लोगों के बैठने की व्यवस्था की गई है। सभी सांसदों को निमंत्रण पहले ही भेजा जा चुका है। पिछली बार जहां शपथ ग्रहण समारोह के लिए स्टेज बना था, वहीं इस बार भी  बनाया जा रहा है। अतिथियों के लिए हाई टी की व्यवस्था की गई है, इसके अलावा विशिष्ट अतिथियों के लिए हल्के डिनर की भी व्यवस्था है। पिछले बार शपथ ग्रहण की शुरुआत  छह बजे हुई थी, लेकिन गर्मी की वजह से इस बार शाम सात बजे करने का फैसला किया गया है।
इससे पहले, 30 जून के इस शपथ ग्रहण समारोह में पाकिस्तान को छोड़कर बिक्सटेक (बे ऑफ बंगाल इनिशिएटिव फॉर मल्टी सेक्टरल टेक्निकल एंड इकॉनोमिक को-ऑपरेशन) जिनमें बांग्लादेश, भुटान, ख्यांमार, नेपाल, श्रीलंका और थाईलैंड को आमंत्रित किया गया। इसके साथ ही, शपथ ग्रहण समारोह में भारतीय राजनेताओं, मुख्यमंत्रियों और विपक्षी नेताओं को भी न्यौता दिया गया है।
संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए) अध्यक्ष सोनिया गांधी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में हिस्सा लेंगी। खबर के मुताबिक सोनिया के साथ कांग्रेस अध्यक्ष राहुल  गाधी और पार्टी के सीनियर नेता गुलाम नबी आजाद भी इस समारोह में शामिल होंगे। इसके अलावा फिल्म और खेल जगत की मशहूर हस्तियां भी शपथ ग्रहण समारोह में शामिल  होंगी। इसमें शाहरुख खान से लेकर राहुल द्रविड़ तक का समावेश है।
लोकसभा चुनाव के दौरान ही बंगाल में भाजपा के कई कार्यकर्ताओं की हत्या हो गई थी और कई लोग घायल हो गए थे। चुनाव परिणाम आने के बाद भी बंगाल में हिंसा का दौर जारी है। लोकसभा चुनाव 2019 में बंपर जीत के बाद नरेंद्र मोदी आज दोबारा प्रधानमंत्री पद की शपथ लेने जा रहे हैं। इस बीच खबर है कि भाजपा ने बंगाल में चुनाव के दौरान हुई  हिंसा में मारे गए कार्यकर्ताओं के परिवारवालों को भी शपथ ग्रहण समारोह में आने का न्योता भेजा है। भाजपा ने ऐसे 54 लोगों को शपथ ग्रहण में शामिल होने का न्योता दिया है।  पार्टी ने इन सभी कार्यकर्ताओं के परिवार वालों को दिल्ली में ठहरने और खाने की अच्छी व्यवस्था भी कर दी है। लोकसभा चुनाव के दौरान ही बंगाल में भाजपा के कई कार्यकर्ताओं  की हत्या हो गई थी और कई लोग घायल हो गए थे। चुनाव परिणाम आने के बाद भी बंगाल में हिंसा का दौर जारी है। इस कदम को पश्चिम बंगाल में अपना कद बढ़ाने की कोशिश  कर रही भाजपा का अहम कदम माना जा रहा है।

शपथ ग्रहण समारोह में नहीं शामिल होंगी ममता बनर्जी, कहा-सॉरी मोदी जी
पश्चिम बंगाल की  मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) की प्रमुख ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में आने से इनकार कर दिया है। बुधवार को  उन्होंने कहा कि बंगाल में निजी दुश्मनी के चलते हुई हत्याओं पर राजनीति हो रही है।
ममता ने कहा कि भाजपा कह रही है कि राजनीतिक हिंसा में 54 लोगों की हत्या की गई है। उनके मुताबिक बंगाल में कोई राजनीतिक हत्या नहीं हुई है। आपसी रंजिश की वजह से  हत्या हुई है। ममता ने कहा कि भाजपा ऐसे अवसर पर राजनीति का स्तर न गिराए।
इससे पहले मंगलवार को ममता ने कहा था कि मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने के लिए दिल्ली जाऊंगी।

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget