ममता पर बरसे शाह

बारासात
पश्चिम बंगाल में सत्तारूढ़ टीएमसी और भाजपा के बीच तल्खी लगातार बढ़ती जा रही है। दोनों ही पार्टियों के नेता एक-दूसरे पर हमलावर हैं। सूबे में सोमवार को ताबड़तोड़ रैलियों  के दौरान अमित शाह ने ममता बनर्जी पर जमकर निशाना साधा। बारासात में एक चुनावी रैली में शाह ने दो टूक कहा कि बंगाल की धरती बंकिमचंद्र चटर्जी, रवींद्रनाथ टैगोर और   विवेकानंद की धरती है, यहां सरस्वती पूजा नहीं होगी तो क्या पाकिस्तान में होगी?
बता दें कि अमित शाह दुर्गा पूजा और सरस्वती पूजा के मुद्दे को लेकर ममता बनर्जी सरकार को लगातार घेरते रहे हैं। पिछले दिनों शाह ने कहा था कि दुर्गा पूजा पश्चिम बंगाल की  पहचान है। ममता बनर्जी ने दुर्गा पूजा करने पर रोक लगा दी। सरस्वती पूजा करते हैं, तो ममता के गुंडे मारामारी करते हैं। श्रीराम नहीं बोल सकते हैं, क्योंकि ममता दीदी को  घुसपैठियों का वोट चाहिए।

एयर स्ट्राइक पर ममता कार्यालय में पसरा था मातम
उधर, आतंकवाद के मुद्दे पर भी शाह ने ममता सरकार को घेरा। भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि जब हमने पाकिस्तान में घुसकर एयर स्ट्राइक के जरिए आतंकियों को मारा तो पूरा देश  खुश था। सिर्फ दो जगह पर मातम पसरा था। एक तो पाकिस्तान में जो कि स्वाभाविक है और दूसरा यहां ममता दीदी के कार्यालय में। मैं पूछता हूं कि आखिर आतंकियों के मरने   पर ममता दीदी के चेहरे से नूर गायब क्यों हो गया? यह इसलिए क्योंकि ममता दीदी को इन घुसपैठियों का वोट चाहिए।

रैली की अनुमति नहीं मिलने पर भी साधा निशाना
जाधवपुर में रैली करने की अनुमति नहीं मिलने के मुद्दे को उठाते हुए भी शाह ने सीएम पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि इससे पहले बंगाल के जाधवपुर में मेरी एक सभा थी।  ममता दीदी ने सभा की अनुमति नहीं दी। ममता दीदी आप मुझे रोक सकती हो, लेकिन जनता को रोक नहीं सकती। जनता ने इस बार आपकी विदाई तय कर दी है।

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget