बंगाल में जय श्रीराम की गूंज

मेदिनीपुर
बंगाल की राजनीति में इन दिनों 'जय श्रीराम' की गूंज खूब सुनाई दे रही है। 'जय श्रीराम' पर प्रदेश की सीएम ममता बनर्जी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बीच सियासी तकरार अभी  थमी भी नहीं था कि भाजपा चीफ अमित शाह भी इसमें कूद पड़े। मेदिनीपुर में अमित शाह ने इस मुद्दे पर ममता बनर्जी को आड़े हाथों लिया। शाह ने मंच से जय श्रीराम के नारे  लगाए और बोले, जो बन पड़ता है उखाड़ लो। इधर, कांग्रेस और भाजपा में सियासी महाभारत छिड़ी है। दोनों तरफ से शब्दों के बाण चल रहे हैं। इसी घटनाक्रम में अब दुर्योधन और  अर्जुन की एंट्री ने महासमर को और भीषण बना दिया है।
एक दिन पहले ही पीएम मोदी ने बंगाल में 'जय श्रीराम' का मुद्दा उठाया था। पीएम ने कहा था कि फेनी चक्रवात के बाद केंद्र सरकार पूरी ताकत से बंगाल की जनता के साथ खड़ी  है। उन्होंने खुद इसके लिए ममता दीदी को फोन किया था, लेकिन दीदी ने कॉल का जवाब नहीं दिया। दीदी (ममता बनर्जी) तो जय श्रीराम कहने वालों को जेल भेज रही हैं।
अमित शाह ने मंच से पूछा, ''आप मेरे साथ संघर्ष करने के लिए तैयार हो ना? मेरे साथ बोलिए-जय श्रीराम, जय जयश्री राम...।'' भाजपा चीफ ने मंच से कई बार पब्लिक से जय  श्रीराम के नारे लगवाए और कहा ममता दीदी अब आपसे जो बन पड़ता है उखाड़ लो, जो धारा लगानी है लगा दो..., मगर हमें जय श्रीराम का नारा लगाने से कोई नहीं रोक सकता।  ...तो क्या पाकिस्तान में लगाएंगे जय श्रीराम के नारे अमित शाह ने कहा कि वह ममता दीदी से पूछना चाहते हैं कि श्रीराम का नाम भारत में नहीं तो क्या पाकिस्तान में लगाएंगे?  शाह ने कहा कि नागरिकता बिल पर सारे विपक्ष एक तरफ हो गए। घुसपैठिया देश को दीमक की तरह चाट रहे हैं। एक बार 23 लोकसभा सीटें पश्चिम बंगाल से मोदी की झोली में  डाल दो, ममता दीदी को अपने आप मुक्ति मिल जाएगी।

संविधान को नहीं मानतीं ममता
अमित शाह ने कहा कि ममता बनर्जी ने कहा कि मोदी जी को वह प्रधानमत्री नहीं मानतीं। आप संविधान में विश्वास रखती हो या नहीं? संविधान कहता है देश जिसे चुनता है वह  प्रधानमंत्री होता है। आपके मानने न मानने से कुछ नहीं होता है और पांच साल की तैयारी कर लो। मोदीजी एक बार फिर से प्रधानमंत्री बनने जा रहे हैं।

राजीव गांधी पर बोले शाह-सच्चाई याद दिलाई
बंगाल के ही बेलदा में दूसरी रैली में शाह ने कहा कि मोदी ने कहा कि राजीव गांधी के समय में बोफोर्स घोटाला हुआ। राहुल बाबा कह रहे हैं कि उनके पिताजी का अपमान किया  गया। सच्चाई याद दिलाना अपमान है क्या? राहुल गांधी देश की जनता को बताएं कि क्या उनके पिताजी के समय बोफोर्स घोटाला नहीं हुआ? भोपाल गैस कांड नहीं हुआ था क्या?  कश्मीरी पंडितों की हत्याएं नहीं हुई थीं क्या?

बिलख रहे कांग्रेसी
कांग्रेस और गठबंधन ने मोदी को 51 से ज्यादा बार गालियां दीं। मोदी की मां का अपमान किया। मोदी जी को गंवार कहा गया। कांग्रेस के नेता मोदी को अपशब्द कहते हैं। पुराने  और स्वर्गवासी पीएम का अपमान होता है कांग्रेसी बिलखने लगते हैं। अभी के प्रधानमंत्री का अपमान होता है तो आप कुछ नहीं कहते हो। पीएम ने राजीव को कहा था-भ्रष्टाचारी  नंबर 1 बता दें कि पीएम मोदी ने एक रैली में राजीव गांधी को भ्रष्टाचारी नंबर वन कहा था, जिसपर राहुल गांधी सहित कांग्रेस के तमाम नेताओं ने बेहद तीखी प्रतिक्रिया दी थी।  पीएम के इस बयान ने नाराज प्रियंका वाड्रा ने मोदी की तुलना महाभारत के दुर्योधन से की थी। प्रियंका ने रामधारी सिंह दिनकर की एक कविता सुनाई, ''जब नाश मनुज पर छाता  है, पहले विवेक मर जाता है, हरि ने भीषण हुंकार किया, अपना स्वरूप-विस्तार किया, डगमग-डगमग दिग्गज डोले, भगवान कुपित होकर बोले-जंजीर बढ़ा कर साध मुझे, हां, हां  दुर्योधन! बांध मुझे।'' प्रियंका वाड्रा के इस हमले का जवाब अमित शाह ने दिया। शाह ने कहा कि किसी के कहने से कोई दुर्योधन नहीं हो जाता। दुर्योधन कौन है और अर्जुन कौन है,  23 मई को साबित हो जाएगा। उधर, चुनाव आयोग ने राजीव गांधी भ्रष्टाचारी नंबर 1 के मामले पर पीएम मोदी को क्लीनचिट दे दी है। इस मामले पर सुप्रीम कोर्ट में आज सुनवाई होनी है।

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget