'कांग्रेसी नकाब पहन देते हैं गालियां'

मुझे रावण, हिटलर, मौत का सौदागर, नीच, दुर्योधन, दाऊद, ओसामा, भस्मासुर, बिच्छू, गंदा आदमी, जहर बोने वाला, गंदी नाली का कीड़ा और गंगू तेली कहा गया


गुड़गांव
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को हरियाणा के फतेहाबाद और कुरुक्षेत्र में जनसभाएं कीं। कुरुक्षेत्र में उन्होंने कहा, ''कांग्रेस के लोग प्रेम का नकाब पहनकर मुझे गालियां देते हैं।  इनकी प्रेम की डिक्शनरी में मेरे लिए इस तरह का प्रेम उमड़ता है कि कांग्रेस नेताओं में मुझे गालियां देने के लिए होड़ लगती है। एक कांग्रेसी नेता मुझे गंदी नाली का कीड़ा कहता  है, तो दूसरा मुझे गंगू तेली कहने आ जाता है।''
प्रधानमंत्री ने कहा, ''कांग्रेसी नेताओं द्वारा मुझे दाऊद इब्राहिम का दर्जा दिया जाता है। हिटलर कहते हैं। मोस्ट स्टुपिड पीएम, जवानों के खून का दलाल कहा गया। कांग्रेस के नेताओं  ने मुझे रावण, सांप, बिच्छू, गंदा आदमी, जहर बोने वाला बताया। कांग्रेस के नेता जिसके सामने नतमस्तक हैं, उन्होंने मुझे मौत का सौदागर कहा। ये उनका प्रेम करने का तरीका  है। यही उनकी डिक्शनरी है। ये मेरे ऊपर प्रेम वर्षा का सैंपल है। इनकी सोच मोदी की बोटी-बोटी करने की रही है। मोदी की बोटी-बोटी करने की घोषणा करने वालों को चुनाव में  टिकट देकर इसे बढ़ावा दिया जाता है। इससे पता चलता है कि इनकी डिक्शनरी किस प्रेम से भरी है।''

1984 में कांग्रेस-दरबारियों के इशारे पर मासूमों को मारा गया
फतेहाबाद में उन्होंने बोफोर्स रक्षा सौदे में पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी पर लगे भ्रष्टाचार का मुद्दा फिर से उठाया। मोदी ने कहा कि कांग्रेस न्याय की बात करती है, लेकिन पार्टी  दलित वर्ग से आने वाले अपने अध्यक्ष को भी न्याय नहीं दिला पाई। 1984 में कांग्रेस परिवार और दरबारियों के इशारे पर मासूमों को मारा गया। भाजपा सरकार आने के बाद  दोषियों को फांसी और उम्रकैद मिलना शुरू हुई। सिख दंगों के आरोपी को मध्यप्रदेश का मुख्यमंत्री बनाकर कांग्रेस ने साफ कर दिया कि उसे किसी की भावना की चिंता नहीं। आपने   जो नई सरकार दिल्ली में बनाई उसने सैनिकों की भुजाओं में नई ताकत दी। अब हमारे सपूत पाकिस्तान में आतंकियों के अड्डे में घुसकर मारते हैं। जो आतंकी कभी हमें डराते थे  वे आज दुबककर बैठे हुए हैं। साथियों तमाम आतंकी हमलों का गुनहगार अब ग्लोबल टेररिस्ट घोषित हो चुका है।''

नाम लिए बगैर रॉबर्ट वाड्रा पर निशाना
हरियाणा और दिल्ली में जब कांग्रेस की सरकार थी तब कैसे कौड़ियों के दाम पर किसानों की जमीन ली गई। आप सभी के आशीर्वाद से किसानों को लूटने वालों को चौकीदार कोर्ट  तक ले गया। अब वो जमानत के लिए कोर्ट के चक्कर काट रहे हैं। ईडी के दफ्तर में जूते घिस रहे हैं। पहले वे मानते थे कि वह शहंशाह हैं। देश को जिन्होंने लूटा है उन्हें लौटाना  ही पड़ेगा। 5 साल और दीजिए वह सभी जेल के अंदर होंगे।

कांग्रेस की नीतियों से कभी वॉर मेमोरियल नहीं बनता
प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेस ने आपसे वादा किया था कि वह वन रैंक वन पेंशन लागू करेगी। ये वादा करते-करते उसने चार दशक निकाल दिए। जब आपने दबाव बनाया तो  2013-14  में चुनाव के पहले सिर्फ 500 करोड़ रखकर, कांग्रेस ने झूठ बोला कि वन रैंक वन पेंशन लागू कर दी। देश की रक्षा करने वालों से झूठ बोलने, उन्हें सम्मान न देने की  कांग्रेस की नीति की वजह से दिल्ली में कभी वॉर मेमोरियल तक नहीं बना। वीरों के परिवार कहते रहे कि जिन्होंने देश के लिए जान दी उनके लिए कोई वॉर मेमोरियल नहीं है।  अपने परिवार के लिए तो हर कोई मेमोरियल बनाता है।

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget