कुछ करें ऐसा कि लहराने लगें बाल

केशसज्जा को नारी के श्रृंगार का एक हिस्सा माना गया है मगर केश सज्जा का मन भी तभी बनता है जब बाल खूबसूरत, स्वस्थ और लहराते हुए हों। बाल न सिर्फ चेहरे की खूबसूरती बढ़ाते हैं, बल्कि चेहरे को खास आकार में बांधते हैं। अपने बालों को सुंदर, स्वस्थ और रेशमी बनाने के लिए महिलाएं क्या कुछ नहीं करती मगर बालों को अपने अनुसार वे  फिर भी नहीं ढाल पाती। वास्तविकता तो यह है कि जो प्रकृति की देन है, उसमें फेर बदल अधिक किया ही नहीं जा सकती। यदि आपके बाल रूखे हैं, तब आप उन्हें नार्मल भी नहीं बना सकती। यदि आपके बाल तैलीय हैं तब आप उन्हें रूखे अथवा तैलीय नहीं बना सकती। सच पूछिये, तो पूरी तरह से कोई भी महिला अपने बालों से संतुष्ट नहीं होती। कोई न  कोई बालों की समस्या हर किसी को घेरे रहती है। विभिन्न प्रकार के साबुन, शैंपू और तेल लगाने के बावजूद आप अपने बालों को मनचाहा नहीं बना सकती। किसी के बाल बहुत  जल्दी बढ़ते हैं और घुटनों से भी नीचे हो जाते हैं और उन्हें (उन महिलाओं को) यदि छोटे बाल पसंद हों तो बालों को बार-बार कटवाना उनके लिए महंगा पड़ सकता है। बार-बार  Žयूटीपार्लर के च€कर लगाना वे पसंद नहीं करेंगी। उनके बाल और न बढ़ें, इनके लिए वे बालों की देखभाल करना बंद कर देंगी। शायद इससे उनके बालों की चमक ही खो जाए और  बाल बढ़ने फिर भी कम न हों। प्राकृतिक बाल जैसे हैं, वैसे ही रहेंगे। थोड़ी-सी लापरवाही से आप उनकी सुंदरता भी खो बैठेंगी। किसी भी प्राकृतिक चीज को आप बदल नहीं सकती  मगर आप उसे संवार जरूर सकती हैं। यदि आपके बाल रूखे हैं, तो बालों को प्राकृतिक तेल में डुबोकर मालिश करें। यदि आपके बाल सामान्य हैं, तो उन्हें हफ्ते में एक बार तेल  लगाएं और यदि आपके बाल तैलीय हैं तो भी अपने बालों में कभी-कभी तेल लगाना न भूलें।
हां बालों को तेल में तर तभी करें जब वे रूखे हों, तैलीय नहीं। उसी शैंपू और उसी तेल का इस्तेमाल करें जो आपके बालों के अनुकूल हो। यदि आपके बाल झड़ते हैं, तो इसका  इलाज कोई दवाई, खास शैंपू या साबुन नहीं बल्कि संतुलित भोजन है। भोजन में यदि आप प्रोटीन संतुलित मात्र में लेती हैं तो आपके बालों का झड़ना निश्चित ही कम हो जायेगा।  बालों को भी भोजन की जरूरत होती है और उनका भोजन है प्रोटीन। बाल क्योंकि निर्जीव होते हैं, सो जरूरी है उन्हें ज्यादा देखभाल की। आप अगर बालों को ज्यादा कंघी करेंगी तो  बाल झड़ेंगे ही। बालों में रूसी और बालों के सफेद होने का कारण संतुलित भोजन की कमी है। अपने बालों को गंदा न होने दें। सप्ताह में दो बार बालों को जरूर धोएं। बालों में रोज  कंघी करें। इससे बालों की गंदगी दूर होगी। बालों पर ज्यादा समय के लिए स्कार्फ भी नहीं ओढ़े रहना चाहिए। इससे बालों के टूटने की समस्या ज्यादा बन जाती है। बालों की साफ- सफाई से भी बहुत फर्क पड़ता है। फिर क्यों नहीं पाएंगी आप लहराते हुए बाल।

- शिखा चौधरी

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget