1.38 लाख शिक्षकों की होगी नियुक्ति

पटना
बिहार सरकार के शिक्षा विभाग ने बुधवार को दो बड़े फैसले लिए। पहला ये कि प्रदेश के  टीईटी और एसटीईटी सर्टिफिकेट धारकों की वैधता 2 साल के लिए बढ़ा दी गई है। साथ ही प्राइमरी स्कूलों में शिक्षकों की बड़ी संख्या में नियुक्ति करने का भी ऐलान किया है। इसके तहत 1 लाख, 38 हजार शिक्षकों की बहाली की जाएगी। शिक्षा विभाग के इस फैसले से टीईटी और एसटीईटी पास 82 हजार छात्रों को फौरी राहत मिल गई है। इसके तहत वर्ष 2011 और 17 में पास छात्रों को फायदा होने वाला है। ये अभ्यर्थी अब नियुक्ति की प्रक्रिया में शामिल हो सकते हैं।
बुधवार को शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव आरके महाजन ने इस फैसले की जानकारी देते हुए कहा कि एसटीईटी की डिग्री की वैधता भी 2 साल बढ़ाई गई है। वर्ष 2011 और 2017 में टीईटी उत्तीर्ण 1 लाख 11 हजार 984 उम्मीदवारों के प्रमाणपत्रों की वैलिडिटी मई 2019 में खत्म हो गई थी। विभाग के फैसले के बाद उन सभी के प्रमाणपत्रों की अवधि 2 साल बढ़ाई गई है। गौरतलब है कि साल 2012 और 2017 में आयोजित टीईटी परीक्षा में 1 लाख 11 हजार 484 अभ्यर्थी पास हुए थे।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget