ठाणे में 4507 इमारतें खतरनाक

मुंबई
ठाणे में 4507 इमारतें खतरनाक हैं। इन इमारतों में 45 हजार परिवार रहते हैं। खतरनाक इमारतों के संदर्भ में तकनीकी विशेषज्ञों से रिपोर्ट मांगी गई है। जिस तरह मुंबई में  खतरनाक इमारतों के लिए तकनीकी सलाहकार समिति है, उसी तरह ठाणे में भी सलाहकार समिति स्थापित करने की जानकारी नगर विकास राज्यमंत्री योगेश सागर ने दी।  विधानसभा में ठाणे महानगरपालिका क्षेत्र में खतरनाक इमारतों के संबंध में जितेंद्र आव्हाड ने सवाल पूछा था। इसके उत्तर में योगेश सागर बोल रहे थे। सागर ने कहा कि ठाणे  महानगरपालिका की सीमा में खतरनाक इमारतों के स्ट्रक्चरल ऑडिट के अनुसार निवासियों की अनुमति सहित मरम्मत की अनुमति दी गई है। गांधीनगर में एक इमारत का कुछ  हिस्सा गिरने के बाद इस इमारत के स्ट्रक्चरल ऑडिट करने के निर्देश ठाणे मनपा को दिए गए हैं। साथ ही सी वन वर्ग में 103 इमारतों में से 82 इमारतों को खाली कराया गया है।  साथ ही 8 इमारतों को ढहा दिया गया है। सागर ने कहा कि सरकार को क्लस्टर विकास करने का अधिकार नहीं है, इसका निर्णय लेने का अधिकार मालिक और सोसाइटी को है।  हालांकि यदि मालिक खतरनाक इमारत का विकास नहीं करता है तो यह अधिकार किराएदारों को दिया गया है। जिन इमारतों को ढहाने का निर्णय लिया गया है, उनके निवासियों को   रहने के लिए कमरे दिए गए हैं। आगे भी कमरे उपलब्ध कराए जाएंगे। इस चर्चा में संजय केलकर, शशिकांत शिंदे ने भाग लिया।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget