75 जिला अस्पताल मेडिकल कॉलेजों में होंगे तब्दील

नई दिल्ली
स्वास्थ्य मंत्रालय ने 75 जिला अस्पतालों को मेडिकल कॉलेजों में तब्दील करने का निर्णया लिया है। यह सरकार द्वारा मानव संसाधन की उपलब्धता को बढ़ावा देने के लिए चलाई  जा रही स्कीम का एक हिस्सा है। इससे पहले फेज-1 में 58 जिला अस्पतालों को मेडिकल कॉलेजों में बदलने की इजाजत दी जा चुकी है तो वहीं दूसरे फेज में 39 में से 24 जिला  अस्पतालों ने मेडिकल कॉलेजों के रूप में काम करना शुरू कर दिया है, जबकि बाकियों में अभी काम चल रहा है। एक सूत्र ने बताया कि तीसरे चरण में 75 जिला अस्पतालों को  मेडिकल कॉलेजों में तब्दील करने का प्रस्ताव व्यय वित्त समिति (ईएफसी) को मंजूरी के लिए भेजा जा चुका है, इसके बाद प्रस्ताव को मंत्रिमंडल को भेजा जाएगा। इस संबंध में  पहले ही कैबिनेट द्वारा एक मसौदा तैयार किया जा चुका है।
जानकारी के मुताबिक प्रत्येक मेडिकल कॉलेज के उन्नयन में 325 करोड़ रुपए का खर्च आएगा। स्वास्थ्य मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि हेल्थ सेक्टर में मानव  संसाधन की कमी को देखत हुए यह कदम उठाया गया है। मेडिकल कॉलेज देश के शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में असमान रूप से फैले हुए हैं, जो शिक्षा की गुणवत्ता में व्यापक  असमानताएं पेश करते हैं। अधिकारी ने बताया कि मानव संसाधन में कमी के कारण स्वास्थय कर्मचारियों की संक्या में कमी आई है। जिस कारण गांवों, आदिवासी और पहाड़ी क्षेत्रों  में स्वास्थ्य सेवाएं पूर्ण से मुहैया करा पाना मुश्किल हो रहा है। इस योजना से देशभर में एमबीबीएस में 10,000 और पोस्ट ग्रेजुएट कोर्सेस में 8,000 सीटों की बढ़ोतरी आएगी।

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget