सेमीफाइनल से दो जीत दूर टीम इंडिया

सफर जैसे-जैसे आगे बढ़ रहा है, सेमीफाइनल की कुछ-कुछ तस्वीर नजर आने लगी है। ऐतिहासिक लॉर्ड्स मैदान पर रविवार को पाकिस्तान से हारने के साथ साउथ अफ्रीका की  विदाई हो चुकी है। इसके साथ ही पाकिस्तान ने सेमीफाइनल के लिए क्वॉलीफाइ करने की अपनी उम्मीदें जिंदा कर ली हैं। लीड्स में इंग्लैंड को हराने के बाद श्रीलंका भी रेस में  बरकरार है। टूर्नामेंट में बने रहने के लिए संघर्ष कर रही इन टीमों से इतर चार टीमें ऐसी हैं, जो बेहद मजबूत स्थिति में हैं और सेमीफाइनल में जगह बनाती दिख रही हैं। लेकिन  चूंकि क्रिकेट अनिश्चितताओं से भरा खेल है, इसलिए आखिरी मैच तक कुछ भी कहना नामुमकिन है। न्यूजीलैंड और भारत ने अब तक टूर्नामेंट में अपना एक भी मैच नहीं हारा है।  भारत ने अभी तक पांच मैच खेले और चार में जीत दर्ज की, वहीं न्यूजीलैंड ने छह मैच खेले और पांच में जीत दर्ज की। दोनों के बीच मुकाबला बारिश के कारण रद्द हो गया था।  फिलहाल पॉइंट्स टेबल में न्यूजीलैंड (11 अंक) टॉप पर है, जबकि भारत नौ अंकों के साथ तीसरे नंबर पर  है। ऑस्ट्रेलिया 10 अंकों के साथ दूसरे नंबर पर है। तालिका में टॉप-4 पर  रहने वाली टीमें सेमीफाइनल में जगह बनाएंगी। न्यूजीलैंड को अब केवल एक मैच और जीतना है, जिसके बाद उसकी जगह पक्की हो जाएगी, वहीं भारत को दो और मैच जीतने   पड़ेंगे। विराट कोहली की कप्तानी वाली टीम को मेजबान इंग्लैंड, वेस्टइंडीज, श्रीलंका और बांग्लादेश के खिलाफ मुकाबले खेलने हैं। इनमें से दो मैच जीतना उसके लिए बड़ी बात नहीं  है। ऑस्ट्रेलिया की बात करें तो उसे अब तक केवल एकमात्र हार भारत के हाथों मिली। उसने छह मैच खेले और पांच जीते। टीम के खिलाड़ी फॉर्म में चल रहे हैं। उसे अभी इंग्लैंड,  न्यूजीलैंड और साउथ अफ्रीका के खिलाफ मुकाबले खेलने हैं। केवल एक मैच जीतकर ही सेमीफाइनल में उसकी जगह पक्की हो जाएगी।
यदि टीम के 10 अंक ही रह जाएंगे तो उसे श्रीलंका से उम्मीद करनी होगी कि वह बांग्लादेश या पाकिस्तान के खिलाफ मैच में कोई हार जाए। दुनिया की नंबर- एक वनडे टीम  इंग्लैंड को खिताब का प्रबल दावेदार माना जा रहा है, लेकिन उसे पाकिस्तान और श्रीलंका के खिलाफ शिकस्त झेलनी पड़ी। अभी उसे भारत, न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलिया का सामना  करना है। तीनों ही टीम शानदार प्रदर्शन कर रही हैं और यदि इंग्लैंड इनमें से एक मैच भी नहीं जीत पाता है, तो आठ अंकों के साथ उसे बाहर होना पड़ेगा। इतना ही नहीं, यदि  इंग्लैंड अपने अगले तीन में से एक मैच जीत भी लेता है, तो भी उसका क्वॉलीफिकेशन पक्का नहीं होगा। यदि श्रीलंका अपने अगले तीनों मैच जीत लेता है, तो 12 अंकों के साथ वह  इंग्लैंड को तालिका में पछाड़ देगा और क्वॉलीफाइ कर जाएगा। इंग्लैंड इस स्थिति में कर सकता है क्वॉलीफाइ, यदि श्रीलंका अपने शेष मैच हार जाए या  पाकिस्तान और बांग्लादेश  को उसके कम से कम बाकी दोनों मैचों में हार मिले, या फिर वेस्ट इंडीज को भी एक मैच में हार मिले।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget