पीके जिस कॉलेज के छात्र, शाह वहां के प्रिंसिपल

कोलकाता
राजनीतिक रणनीतिकार प्रशांत किशोर 2021 में पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में तृणमूल कांग्रेस चीफ ममता बनर्जी के रणनीतिकार होंगे। इस पर भाजपा महासचिव कैलाश  विजयवर्गीय ने तंज कसते हुए कहा कि किशोर जिस कॉलेज में स्टूडेंट हैं, पार्टी अध्यक्ष अमित शाह वहां के प्रिंसिपल हैं। उन्होंने कहा कि बंगाल के लोगों को अब मुख्यमंत्री बनर्जी  पर विश्वास नहीं रहा। इसे कोई भी चुनावी रणनीतिकार बदल नहीं सकता। किशोर ने बंगाल की मुख्यमंत्री ममता से मुलाकात की। किशोर अब तृणमूल कांग्रेस चीफ ममता बनर्जी के  रणनीतिकार होंगे। हालांकि, उन्होंने पिछले साल सितंबर में जदयू ज्वॉइन की थी। विजयवर्गीय ने कहा कि हमें यह हरगिज नहीं भूलना चाहिए कि पार्टी अध्यक्ष शाह से किशोर बड़े  रणनीतिकार नहीं हैं। हम किशोर के रणनीतिकार बनाए जाने से बिल्कुल परेशान नहीं हैं। ममता चाहें तो और रणनीतिकार रख सकती हैं।

प्रशांत के काम से हमारा वास्ता नही : नितीश
टीएमसी और किशोर दोनों इसपर चुप्पी साधे हैं। सूत्रों का कहना है कि किशोर बंगाल में जुलाई से काम कर सकते हैं। किशोर और उनकी टीम टीएमसी का गढ़ माने जाने वाले सीटों  पर हार के कारणों का पता लगाएगी। वरिष्ठ टीएमसी नेता ने नाम न बताने की शर्त पर कहा कि उसके बाद वह अगले विधानसभा चुनावों में पार्टी की जीत के लिए रणनीति बनाएंगे, जिसमें राज्य के विभिन्न विकास परियोजनाओं के साथ जनता तक पहुंचा जाएगा। इस बीच, जदयू प्रमुख और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश ने कहा कि प्रशांत इस संबंध में  खुद ही बताएंगे। हमें उनके काम से वास्ता नहीं है। भाजपा ने लोकसभा चुनाव में बंगाल की 42 लोकसभा सीटों में से 18 सीटें जीतकर शानदार प्रदर्शन किया है। टीएमसी ने 22 सीटें  जीतीं हैं। लोकसभा चुनाव में अपने प्रदर्शन से भाजपा उत्साहित है। पार्टी नेता अब दावा कर रहे हैं कि उनका अगला लक्ष्य 2021 के चुनावों में टीएमसी को सत्ता से उखाड़ फेंकना है।

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget