उद्योग जगत को नई सरकार से उम्मीदे

नई दिल्ली
उद्योग जगत को उम्मीद है कि नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली सरकार अपने दूसरे कार्यकाल में एतिहासिक सुधारों के जरिए देश की अर्थव्यवस्था को आगे ले जाने के कदम उठाएगी।  उद्योग जगत ने कहा कि मोदी सरकार को निर्णायक जनादेश मिला है, जिससे देश को दुनिया की आर्थिक ताकत बनने में मदद मिलेगी। मोदी और उनकी मंत्रिपरिषद ने गुरुवार को  शपथ ली। इस मौके पर देश-विदेश की गणमान्य हस्तियां मौजूद थीं। आनंद महिंद्रा ने कहा कि यह नई सरकार और नए अवसरों की शुरुआत है। साथ में उन्होंने यह भी कहा कि  अगर स्पीड, फोकस और एफिसिएंसी से सरकार के चरित्र की पहचान हो तो हमें आशावादी होने की जरूरत है। राष्ट्रपति भवन के प्रांगण में खुले में आयोजित इस समारोह में  उद्योगपति मुकेश अंबानी, रतन टाटा, इस्पात क्षेत्र के दिग्गज प्रवासी भारतीय उद्यमी लक्ष्मी निवास मित्तल, गौतम अडाणी, एस्सार के निदेशक प्रशांत रुइया, टाटा समूह के  चेयरमैन एन चंद्रशेखरन, वेदांता के चेयरमैन अनिल अग्रवाल, महिंद्रा समूह के चेयरमैन आनंद महिंद्रा, पेटीएम के संस्थापक एवं सीईओ विजय शेखर शर्मा, वेल्सपन समूह के चेयरमैन  और एसोचैम के अध्यक्ष बीके गोयनका शामिल हुए। आईटीसी लि. के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक संजीव पुरी ने कहा कि मोदी के दूरदृष्टि वाले नेतृत्व और राष्ट्रीय महत्वाकांक्षाओं  तथा क्षेत्रीय आकांक्षाओं को पूरा करने में मदद मिलेगी। इससे चौतरफा सामाजिक आर्थिक विकास सुनिश्चित होगा और कृषि और खाद्य प्रसंस्करण जैसे क्षेत्रों को काफी बढ़ावा मिलेगा। इससे हमारे किसान सशक्त हो सकेंगे। बीके गोयनका ने कहा कि सरकार को भारी जनादेश मिला है। ऐसे में उम्मीद की जाती है कि सरकार कराधान, श्रम और जमीन जैसे  क्षेत्रों में ऐतिहासिक सुधारों को आगे बढ़ाने में कामयाब होगी। उन्होंने आगे कहा कि जीएसटी और दिवाला एवं शोधन अक्षमता संहिता जैसे कुछ बड़े सुधार और आगे बढ़ेंगे। पेटीएम के  संस्थापक शर्मा ने ट्वीट किया, हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपनी टीम के साथ मिशन पर निकले व्यक्ति हैं।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget