अब तक मिली पुरस्कार राशि लौटाएंगे पुनिया

नई दिल्ली
हरियाणा सरकार की ओर से मिलने वाली पुरस्कार राशि को लेकर खफा चल रहे भारतीय स्टार पहलवान बजरंग पूनिया ने बुधवार को कहा कि वह इस मामले में राज्य के खेल मंत्री  अनिल विज से मुलाकात करेंगे। उन्होंने साथ ही कहा कि यदि उन्हें वादे के मुताबिक पूरी पुरस्कार राशि नहीं मिली, तो वह अब तक मिले पैसे को खेल मंत्री को लौटा देंगे। 65 किलो  भार वर्ग में इंटरनेशनल लेवल पर ढेरों मेडल जीतकर देश का मान बढ़ाने वाले पहलवान पूनिया ने कहा कि मैं इस मामले में हरियाणा के खेल मंत्री अनिल विज से मुलाकात करूंगा,  जो पैसे मिले हैं, उसे भी जल्द वापस कर दूंगा। जो गलत है, वह गलत है और गलत कभी नहीं सहूंगा। बजरंग ने बताया कि उनके अकाउंट में 2.25 करोड़ (डेढ़ करोड़ पहले और 75  लाख अब) आए हैं, जबकि यह राशि तीन करोड़ होनी चाहिए थी। इस पर उन्हें बताया गया कि साल के सबसे बड़े मेडल की पूरी इनामी राशि दी जाएगी, जबकि उसके बाद दूसरे  मेडल पर 50 प्रतिशत और तीसरे मेडल पर 25 प्रतिशत राशि में कटौती होगी। उसके बाद अगर कोई मेडल जीतता है, तो उस मेडल पर कोई इनामी राशि नहीं मिलेगी। उन्होंने कहा   कि हरियाणा सरकार के इस कदम से युवा एथलीटों को गलत मैसेज गया है। उनका मनोबल टूटेगा और हो सकता है भविष्य में मेडल की संख्या भी कम हो जाए। बजरंग ने इससे  पहले ट्वीट किया, 'खिलाड़ी जब देश के लिए मेडल लाता है, तो वह देश की जीत होती है। यह एक दिन की मेहनत से नहीं पूरे जीवन की तपस्या से प्राप्त होता है। खिलाड़ियों को  मिलने वाली राशि में कटौती करके उनकी मानसिकता और आत्मसम्मान को ठेस न पहुंचाएं। मेरी सरकार से विनती है कि इस निर्णय पर फिर से विचार करे। बता दें कि 2018 में  हरियाणा ने अपनी नीतियों में बदलाव किया था, जिसका उस वक्त भी खिलाड़ियों ने जमकर विरोध किया था। हालांकि इस पर अनिल विज ने बात को स्पष्ट करते हुए कहा था कि  यदि हरियाणा सरकार गोल्ड मेडलिस्ट को एक करोड़ 50 लाख रुपए प्रदान करती है और संबंधित खिलाड़ी को 25 लाख रुपए रेलवे से मिले हैं तो इस 25 लाख की कटौती के बाद  खिलाड़ी को सवा करोड़ रुपए पुरस्कार में दिए जाएंगे।
Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget